Breaking News

ब्रिटन रशिया के ‘स्पेस वॉर’ के लिए तैयार रहे – ब्रिटन के वायुसेना प्रमुख का इशारा

स्पेस वॉर, तैयार, रशिया, सर स्टिफन हिलीअर, इशारा, ब्रिटन, व्लादिमिर पुतिनलंडन: ब्रिटन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे को रशिया के साथ ‘स्पेस वॉर’ अर्थात ‘अंतरिक्ष युद्ध’ के लिए तैयार रहना पड़ेगा, ऐसा इशारा ब्रिटन के वायुसेना प्रमुख ‘सर स्टिफन हिलीअर’ ने दिया है। स्क्रिपल विषप्रयोग प्रकरण के बाद वर्तमान में ब्रिटन और रशिया के बीच चल रहे राजनीतिक युद्ध की पृष्ठभूमि पर हिलीअर ने दिया हुआ यह इशारा ध्यान आकर्षित करने वाला है।

“अंतरिक्ष युद्ध की संभावना की तरफ नजर अंदाज करना ब्रिटन के लिए उचित नहीं होगा। बल्कि इस सन्दर्भ में ब्रिटन बारे में खतरे वास्तव में उतर सकते हैं, इसकी संभावना बढ़ी है। आज के समय में ब्रिटन जैसा देश उपग्रहों पर बड़े पैमाने पर निर्भर है, यह ध्यान में रखकर रशिया जैसा शत्रु देश ब्रिटन के उपग्रहों को जैम कर सकता है”, ऐसा इशारा हिलीअर ने दिया है। इसीलिए इस खतरे को टालने के लिए ब्रिटन की वायुसेना को अधिक अधिकार मिलने चाहिए ऐसी माँग हिलीअर ने की है।

स्पेस वॉर, तैयार, रशिया, सर स्टिफन हिलीअर, इशारा, ब्रिटन, व्लादिमिर पुतिनस्पेस वॉर, तैयार, रशिया, सर स्टिफन हिलीअर, इशारा, ब्रिटन, व्लादिमिर पुतिनस्पेस वॉर, तैयार, रशिया, सर स्टिफन हिलीअर, इशारा, ब्रिटन, व्लादिमिर पुतिनसंचार में ‘जीपीएस’ (ग्लोबल पोझिशनिंग सिस्टम) इस्तेमाल का प्रमाण कितना है और इसमें रुकावटें आने पर कितनी बड़ी हानि और तकलीफ उठानी पड़ सकती है, इसकी अभी तक कई लोगों को कल्पना नहीं है, इस बात की तरफ भी हिलीअर ने ध्यान आकर्षित किया है। सभी नहीं, लेकिन बड़े पैमाने पर अपनी संपर्क व्यवस्था उपग्रहों पर निर्भर रहती है, ऐसा कहकर ब्रिटन के वायुसेना प्रमुख ने यह व्यवस्था खतरे में पडी तो ब्रिटन ठप्प हो जाएगा, ऐसा इशारा दिया है।

दौरान, पिछले कुछ दिनों से ब्रिटन के विद्यमान और भूतपूर्व अधिकारी रशिया की क्षमता के बारे में अपनी सरकार को सटीक शब्दों में इशारे दे रहे हैं। रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमिर पुतिन यह पहले गुप्तचर यंत्रणा ‘केजीबी’ के जासूस के तौर पर काम करते थे। इस वजह से किसी चीज पर क्या प्रतिक्रिया आ सकती है, इसकी उनको पूरी कल्पना होती है। इसीलिए वह पहले से ही प्रतिपक्षों की गतिविधियों को ध्यान में रखकर उसका सामना करने की तैयारी करते हैं, ऐसा दावा ब्रिटन के ‘एम आई ५’ के भूतपूर्व जासूस ‘टॉम मार्कस’ ने किया था।

रशिया के राष्ट्राध्यक्ष अपने प्रतिस्पर्धियों की तुलना में दस कदम आगे रहते हैं, इसका एहसास मार्कस ने ब्रिटन को कराया था। उसके बाद ब्रिटन के वायुसेना प्रमुख ने प्रधानमंत्री मे को ‘स्पेस वॉर’ के लिए तैयार रहने का इशारा दिया है। उसके पहले ब्रिटन ने रशिया के साइबर हमलों का सामना करने की तैयारी करनी चाहिए, ऐसी सूचना कुछ जिम्मेदार अधिकारी और विश्लेषकों ने दी थी।

 

(Courtesy: www.newscast-pratyaksha.com)

leave a reply