Breaking News

….तो तृतीय विश्‍वयुद्ध भड़क उठेगा : डोनाल्ड ट्रम्प की चेतावनी

वॉशिंग्टन, दि. ३ (वृत्तसंस्था) – रशिया ने क्रीमिआ पर कब्ज़ा करते हुए, युक्रेन से इस प्रान्त को अपने देश से जोड़ लिया| ऐसे में रशिया से क्रीमिआ वापस लेने की कोशिश हुई, तो फिर तृतीय विश्‍वयुद्ध भड़क उठेगा, ऐसी चेतावनी अमरिकी राष्ट्राध्यक्षपद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प ने दी है| ट्रम्प ने एक समाचार वाहिनी से की बातचीत में, अपने इस बयान पर दृढ़ होने की बात कही|

विश्‍वयुद्ध‘अगर मैं राष्ट्राध्यक्ष बनता हूँ, तो रशिया के साथ अच्छे संबंध बनाये रखने को प्राथमिकता दूँगा’ ऐसा डोनाल्ड  ट्रम्प ने कहा था| इस पृष्ठभूमि पर, ‘रशिया युक्रेन पर हमला करने की तैयारी में है, उसका क्या?’ ऐसा सवाल डोनाल्ड ट्रम्प से पूछा गया| इसपर दिये जवाब में, रशिया युक्रेन पर हमला नहीं करेगा, ऐसा ट्रम्प ने कहा| लेकिन रशिया ने पहले से ही क्रीमिआ को युक्रेन से तोड़ दिया है, इस बात की ओर ट्रम्प का ध्यान खींचा गया| उसपर बोलते हुए ट्रम्प ने कहा कि रशिया से क्रीमिआ वापस लेने की योजनाओं का मैं समर्थन नहीं करूँगा| ‘क्योंकि यदि ऐसा होता है, तो फिर तृतीय विश्‍वयुद्ध भड़क सकता है’ ऐसी चेतावनी ट्रम्प ने दी|

obama(1)साथ ही, युक्रेन के कारण अमरीका और रशिया में बिगड़े हुए संबंधों के लिए डोनाल्ड ट्रम्प ने, राष्ट्राध्यक्ष बराक ओबामा की गलत नीतियों को ज़िम्मेदार ठहराया| ‘अमरीका के इतिहास में सबसे बुरे राष्ट्राध्यक्षों में बराक ओबामा की गिनती होगी’ ऐसी आलोचना ट्रम्प ने की| उन्हीं के कार्यकाल में, सीरिया और अन्य खाड़ी देशों में क्या हुआ इस पर ध्यान दें, ऐसा कहते हुए ट्रम्प ने अपने बयान का समर्थन किया| उसी समय, बराक ओबामा ने भी ट्रम्प की कड़ी आलोचना की, ऐसा भी दिखने में आ रहा है|

‘राष्ट्राध्यक्षपद के लिए ट्रम्प लायक उम्मीदवार नहीं हैं| रिपब्लिकन पार्टी अब भी उनकी उम्मीदवारी के बारे में फिर से सोच सकती है’ ऐसी सलाह ओबामा ने दी| पिछले सप्ताह में, डेमोक्रॅट पार्टी की उम्मीदवार हिलरी क्लिंटन का समर्थन करते हुए राष्ट्राध्यक्ष बराक ओबामा ने, ट्रम्प को आलोचना का निशाना बनाया| वहीं, ट्रम्प अपनी बेलगाम शैली में, हिलरी क्लिंटन और बराक ओबामा की आलोचना कर रहे हैं|

चीन के साथ अमरीका के अच्छे संबंध स्थापित करने की घोषणा करनेवालीं हिलरी क्लिंटन की नीति एकतरफ़ा है, ऐसा आरोप ट्रम्प ने किया था| सिर्फ़ चीन के साथ अच्छे संबंध बनाने के बजाय, रशिया के साथ भी अच्छे संबंध बनाना क्या अमरीका के फ़ायदेमंद साबित नहीं होगा? ऐसा सवाल ट्रम्प ने किया है|

 

(Courtesy: www.newscast-pratyaksha.com)

leave a reply