Breaking News

अमरिका किसी भी खतरे का सामना करने के लिए सुसज्ज- अमरिका के वरिष्ठ लष्करी का प्रत्युत्तर

वॉशिंग्टन: ‘रशिया के पास चाहे किसी भी प्रकार की मिसाइलें हों, उन्हें प्रत्युत्तर देने की क्षमता अमरिका के पास है, इस मामले में  कीसी के भी मन में आशंका नहीं होनी चाहिए’, ऐसा तीखा इशारा अमरिका के ‘स्ट्रॅटेजिक कमांड’ के चीफ जनरल जॉन हायटेन ने दिया है। साथ ही अमरिका किसी भी खतरे का सामना करने के लिए सुसज्ज है, ऐसा कहकर अमरिका की अज्ञात जगह पर तैनात पनडुब्बियां हमलावर देशों का नामोनिशान मिटा देंगी, ऐसा जनरल हायटेन ने इशारा दिया है।

हफ्तेभर के समय में रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमिर पुतिन ने दो बार अमरिका को मिसाइल और परमाणु हमले की धमकी दी है। इस पर अमरिका ने कठोर प्रतिक्रिया दी है और ‘जनरल हायटेन’ ने रशिया को ‘सन्देश’ देने वाली यह प्रतिक्रिया दी है। ‘वह अमरिका पर घनघोर हमला कर सकते हैं। इतनी ही बात उनके हाथों में दिखाई देती है। इसके बाद अमरिका अपने सामर्थ्य का इस्तेमाल करके इसे जबरदस्त प्रत्युत्तर देगा। अमरिका की इस क्षमता के बारे में किसी को आशंका नहीं होनी चाहिए’, ऐसा जनरल हायटेन ने कहा है।

अमरिकन सिनेट की ‘आर्म्ड सर्विसेज कमिटी’ के सामने सुनवाई के दौरान जनरल हायटेन ने अपने देश के लष्करी सामर्थ्य के बारे में यह विधान किए हैं। इतना ही नहीं अमरिका की पनडुब्बियां कहाँ पर तैनात हैं, इसकी किसी को भी कल्पना नहीं है। अमरिका ने तय किया तो यह पनडुब्बियां हमला करने वाले देश का नामोनिशान मिटा सकती हैं, इन तीखे शब्दों में जनरल हायटेन ने अपने देश की सज्जता की जानकारी दी है।

अमरिकन रक्षा विषयक नीति विभाग के उपमंत्री जॉन रूड ने रशियन राष्ट्राध्यक्ष ने दी हुई धमकी पर आक्षेप लिया है। राष्ट्राध्यक्ष पुतिन ने अमरिका को दी धमकियां आश्चर्यकारक नहीं हैं, लेकिन वह निराशाजनक हैं, ऐसा रूड ने कहा है।

(Courtesy: www.newscast-pratyaksha.com)

leave a reply