Breaking News

ब्रिटन रशियन जासूस के विषप्रयोग मामले में अमरिका भी रशियन अधिकारयों को बाहर खदेड़ेगा

वाशिंगटन: रशिया का भूतपूर्व जासूस सर्जेई स्क्रिपल इसपर ब्रिटेन में हुए विष प्रयोग के मुद्दे पर अमरिका एवं रशिया में नया विवाद भड़कने के संकेत मिल रहे हैं। अमरिका ने इस मुद्दे पर ब्रिटेन को समर्थन देते हुए रशिया के विरोध में आक्रामक भूमिका ली है और अमरिका ने रशियन अधिकारियों को बाहर खदेड़ने का इशारा दिया है। अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने इस बारे में निर्णय लिया है और जल्द ही उसकी घोषणा की जाएगी, ऐसी जानकारी अमरिकी सूत्रों ने दी है। इसे पहले अमरिका के भूतपूर्व राष्ट्राध्यक्ष बराक ओबामा ने चुनाव में हस्तक्षेप के मुद्दे पर सन २०१६ में रशिया के ३५ अधिकारियों को बाहर खदेड़ा था।

अमरिकी प्रशासन में सूत्रों ने प्रसार माध्यमों को दिए जानकारी के हवाले से रशियन अधिकारियों को बाहर खदेड़ने के बारे में बता दिया है। अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने शुक्रवार को वरिष्ठ अधिकारियों के सामने बात करते हुए बात हुई है और इस में रक्षामंत्री जेम्स मैटिस, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एच.आर.मैकमास्टर एवं अटॉर्नी जनरल जेफ सेशंस का समावेश था। ट्रम्प ने रशिया में अमरिकी राजदूत जॉन हंट्समैन इनसे चर्चा करने की जानकारी अधिकारियों ने दी है। इसके व्यतिरिक्त राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल के सलाह का विचार करेंगे, ऐसा सूत्रों ने कहा है।

व्हाइट हाउस में डेप्युटी प्रेस सेक्रेटरी राज शाह ने भूतपूर्व रशियन जासूस के मुद्दे पर अमरिका ब्रिटेन के समर्थन में होने का पुनर्विचार किया है। रशिया के संताप जनक कार्रवाई के विरोध में अमरिका ठोस रूप से ब्रिटेन के साथ रहेगा। रशिया ने किए निंदनीय कृत्य की वजह से उन्हें जिम्मेदार ठहराया जाएगा और उसके लिए आक्रमक कार्यवाही की जाएगी तथा राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प विभिन्न विकल्पों का विचार कर रहे हैं, ऐसे शब्दों में शाह ने रशिया विरोध में संभाव्य कार्रवाई के संकेत दिए हैं। पर कार्रवाई का स्वरूप बताया नहीं बताया है।

भूतपूर्व रशियन जासूस सर्जेई स्क्रिपल इसपर ब्रिटेन में हुए विष प्रयोग के बाद ब्रिटेन में रशिया के २३ राजनीतिक अधिकारियों को बाहर खदेड़ा था। ब्रिटेन के इस कार्यवाही को यूरोपीय महासंघ ने समर्थन देते हुए रशिया में अपने राजदूत वापस बुलाने की बात घोषित की थी। उसके बाद यूरोप में लगभग १० से अधिक देशों ने रशियन राजनैतिक अधिकारियों को बाहर खदेड़ने के संकेत दिए थे। यूरोपीय देशों से इस बारे में कार्रवाई की घोषणा होने के बाद ट्रम्प ने अपना निर्णय घोषित करेंगे, ऐसे संकेत अमरिकी अधिकारी ने दिए थे।

इससे पहले रशिया ने अमरिका में चुनाव में किए हस्तक्षेप के मुद्दे पर भूतपूर्व राष्ट्राध्यक्ष बराक ओबामा ने रशिया के ३५ राजनीतिक अधिकारियों को बाहर खदेड़ा था। इस पर रशिया से तीव्र प्रतिक्रिया आई थी। रशिया के राष्ट्राध्यक्ष पुतिन ने अमरिका में लगभग ७५५ अधिकारियों को बाहर खदेड़ने का निर्णय लिया था। इस कार्रवाई की वजह से अमरिका एवं रशिया में शीतयुद्ध काल जैसे राजनीतिक संघर्ष भड़कने का दावा विश्लेषकों ने किया था।

(Courtesy: www.newscast-pratyaksha.com)

leave a reply