Breaking News

सीरिया-लेबेनॉन की सीमा पर इस्रायल के हवाई हमले – लेबेनीज मीडिया का दावा

इस्रायल, हवाई हमले, सीरिया, लेबेनॉन, सीमा, मीडिया का दावा, बैरुत, हिजबुल्लाहबैरुत: ‘इस्रायली लड़ाकू विमानों ने हिजबुल्लाह के आतंकवादियों के खिलाफ जंग छेड़ी है। सीरिया-लेबेनॉन सीमा पर स्थित हिजबुल्लाह के बहुत से ठिकानों को इस्रायली विमानों ने लक्ष्य बनाया है’, ऐसा दावा लेबेनॉन का मीडिया कर रहा है। लेकिन इस पर इस्रायली लष्कर और हिजबुल्लाह ने प्रतिक्रिया नहीं दी है।

लेबेनॉन के ‘अल-जादेद’ इस प्रमुख न्यूज़ चैनल ने सर्वप्रथम प्रसिद्ध की जानकारी के अनुसार, इस्रायली लड़ाकू विमानों ने रविवार को सीरिया की सीमा पर स्थित ‘बालबेक’ इस लेबेनीज शहर में हवाई हमले किए। बालबेक सीमा इलाके में इजराइली विमानों को देखने का और उसके बाद यहाँ पर बड़े विस्फोटों की आवाज सुनने का दावा स्थानीय लोगों ने किया है।

इस्रायल, हवाई हमले, सीरिया, लेबेनॉन, सीमा, मीडिया का दावा, बैरुत, हिजबुल्लाहइस्रायली लड़ाकू विमानों के इस हमले में कितनी जीवितहानि हुई है, यह स्पष्ट नहीं हुआ है। लेकिन इस हमले में बड़ी हानि होने का दावा लेबेनीज न्यूज़ चैनल और अरब मीडिया ने किया है। हिजबुल्लाह ने इस हमले की खबर को ख़ारिज किया है और इस तरह का हमला नहीं हुआ है, ऐसा कहा है। लेकिन इस्रायली लष्कर ने इस पर प्रतिक्रिया नहीं दी है।

कुछ दिनों पहले ही इस्रायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने इस्रायल की उत्तर में स्थित सीमारेखा को महत्व दिया था। इस्रायल की उत्तर में स्थित लेबेनॉन, सीरिया की सीमारेखा से इस्रायल की सीमारेखा पर हमले हो सकते हैं, ऐसा इशारा इस्रायली प्रधानमंत्री ने दिया था। लेबेनॉन और सीरिया में ईरान के साहाय्यक हिजबुल्लाह और सशस्त्र संगठन इस्रायल को अपना लक्ष बना सकते हैं, ऐसी संभावना नेत्यान्याहू ने जताई थी। इस्रायल के रक्षामंत्री एवीग्दोर लिबरमन ने इस्रायली लष्कर अपनी सीमारेखा की सुरक्षा के लिए सज्ज होने की घोषणा की है।

लेबेनॉन में स्थित हिजबुल्लाह इस आतंकवादी संगठन के पास करीब सवा लाख लघु और मध्यम दूरी के मिसाइलों भंडार होने का दावा इस्रायली यंत्रणा और विश्लेषक कर रहे हैं। उसीके साथ ही इस्रायली गोलन पहाड़ियों की सीमारेखा से १५ किलोमीटर दूरी पर सीरिया में ईरान ने अपना लष्करी अड्डा प्रस्थापित करने की खबरें प्रसिद्ध हुईं थी।

(Courtesy: www.newscast-pratyaksha.com)

leave a reply