Breaking News

हौथी बागियों को शस्त्र सहायता नहीं रोकी तो, ईरान को योग्य समय पर योग्य जगह प्रत्युत्तर दिया जाएगा- सऊदी अरेबिया के लष्कर का इशारा

रियाद: रविवार को येमेन में हौथी बागियों ने सऊदी अरेबिया के शहरों पर किए मिसाइल हमले के पीछे ईरान होने का आरोप सऊदी में किया है। हौथी बागियों को ईरान ने शस्त्रास्त्र एवं मिसाइल प्रदान करने की बात कहकर ईरान ने यह शस्त्र निर्यात नहीं रोकी तो, सऊदी योग्य समय पर और योग्य जगह पर ईरान को प्रतिउत्तर देगा, ऐसा सऊदी के लष्कर के प्रवक्ता ने सूचित किया है। उस समय सऊदी के अमरिका के राजदूत प्रिंस खालिद बिन सलमान ने सीरिया इराक येमेन, लेबनॉन और बहरीन इन देशो में आतंकवाद के पीछे ईरान का हाथ होने का आरोप किया है।

२ दिनों पहले येमेन में हौथी बागियों ने सऊदी की राजधानी रियाद के साथ चार शहरों पर ७ मिसाइल दागे थे। इन मिसाइल हमलों में एक की जान गई है तथा वित्त हानि हुई है। येमेन के सीमा रेखा से सीधे सऊदी के राजधानी तक धड़कने वाले यह मिसाइल ईरान ने हौथी बागियों को प्रदान करने का आरोप सऊदी ने किया है। इसके लिए सऊदी में रियाद पर गिरे हुए मिसाइलों के टुकड़े सोमवार को माध्यमों के सामने प्रस्तुत किए हैं। इन टुकड़ों द्वारा ईरान हौथी बागियों को मिसाइल की तस्करी करने के बाद उजागर हुई है, ऐसा आरोप सऊदी के लष्कर प्रवक्ता ने किया है।

ईरान के इन मिसाइलों की वजह से सऊदी की सुरक्षा में खतरे में आई है। आगे चलकर सऊदी पर हौथी बागियों के मिसाइलों के अधिक हमले हुए, तो उसके लिए ईरान जिम्मेदार होगा और सऊदी कठोर कार्रवाई करेगा, ऐसा मलिकी ने आगे सूचित किया है। इस कार्रवाई का समय और जगह यह सऊदी निश्चित करेगा, ऐसा कहकर सऊदी के लष्कर ने ईरान को कड़ा इशारा दिया है।

सऊदी के इन आरोपों का अरब तथा इस्लामी देशों ने समर्थन किया है। पिछले वर्ष सऊदी के नेतृत्व में स्थापित हुए ५२ देशों के संगठन ने इस संबंध में प्रतिक्रिया दी है और सऊदी पर मिसाइल हमलो के लिए ईरान जिम्मेदार होकर सऊदी पर यह आरोप सहन नहीं किए जाएंगे, ऐसा कहा है। इसके लिए संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन, कुवैत, इजिप्ट, जॉर्डन ओमान, पाकिस्तान के साथ अन्य देशों का समावेश है।

दौरान सिरिया, इराक, येमेन, लेबनॉन और बाहरीन इन देशों में अस्थिरता निर्माण करनेवाले आतंकवादियों को ईरान सहायता करने का आरोप सऊदी अरेबिया के अमरिका में स्थित राजदूत एवं क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान उनके छोटे भाई प्रिंस खालिद बिन सलमान ने किया है। आतंकवादियों को सहायता करके ईरान ने फिर एक बार अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन करने का आरोप प्रिंस खालिद ने किया है।

 

(Courtesy: www.newscast-pratyaksha.com)

leave a reply