Breaking News

चीन के राष्ट्राध्यक्ष ने रखा ‘एक देश, दो व्यवस्था’ का प्रस्ताव ठुकराकर हॉंगकॉंग के प्रदर्शनकारियों ने किए तीव्र प्रदर्शन

बीजिंग/हॉंगकॉंग – चीन के राष्ट्राध्यक्ष शी जिनपिंग ने मंगलवार के दिन राजधानी बीजिंग में मनाए ‘नैशनल डे’ के समारोह में ‘एक देश, दो व्यवस्था’ ना प्रस्ताव नए से रखा। लेकिन, राष्ट्राध्यक्ष जिनपिंग के इस प्रस्ताव का हॉंगकॉंग के प्रदर्शनकारियों पर जरा भी असर नही हुआ है। मंगलवार के दिन हुए प्रदर्शनों से यह बात स्पष्ट हुई है। बल्कि हॉंगकॉंग के प्रदर्शनकारियों ने चीन का ‘नैशनल डे’ यानी शोकदिन होने की ढिठाई से आलोचना करके चीन का राष्ट्रध्वज भी जलाया। इस दौरान सुरक्षा यंत्रणाओं ने की कार्रवाई में गोलीबारी भी की है और इस में एक प्रदर्शनकारी गोली का लक्ष्य हुआ है और अन्य ३० लोग जख्मी होने की बात सामने आयी है।

चीन में कम्युनिस्ट हुकूमत ने ७० वर्ष पूरे किए है और १ अक्टुबर का दिन चीन ‘नैशनल डे’ के तौर पर मनाता है। इसी दिन चीन के साथ हॉंगकॉंग, मकाव इन चीन से जुडे सभी कॉलनीज् में आकर्षक प्रकाश व्यवस्था, संचलन और झंडा फहराने के साथ अलग अगल कार्यक्रमों का आयोजन होता है। लेकिन, इस वर्ष के ‘नैशनल डे’ पर हॉंगकॉंग में शुरू प्रदर्शनों का साया होने से इस ओर अंतरराष्ट्रीय समुदाय विशेष नजर रखकर था।

हॉंगकॉंग में पिछले चार महीनों से चीन के विरोध में शुरू प्रदर्शन खतम करने के लिए सितंबर महीने के शुरू में ही प्रशासन ने विवादित प्रत्यर्पण विधेयक पीछे हटाने का निर्णय किया था। इसके बाद अलग अलग सिविल गुटों से बातचीत भी शुरू की गई थी। लेकिन, हॉंगकॉंग के प्रदर्शनकारियों पर इसका जरा भी असर नही हुआ है, बल्कि यह प्रदर्शन और भी तेज होते दिखाई दे रहे है। चीन की राजधानी बीजिंग में राष्ट्राध्यक्ष जिनपिंग हॉंगकॉंग में शुरू प्रदर्शनों पर बोलने से दूर रहे है। फिर भी, उन्होंने ‘एक देश, दो व्यवस्था’ का नारा दोहराया है और उनका यह वक्तव्य हॉंगकॉंग के उद्देश्य से ही था, यह समझा जा रहा है।

साथ ही दुनिया में कोई भी देश या शक्ति चीन की हुकूमत को प्रगति से रोक नही सकती, यह कहकर जिनपिंग ने हॉंगकॉंग में हस्तक्षेप कर रहे देशों को भी कडी चेतावनी दी। लेकिन, यह इशारा भी प्रदर्शनकारियों ने ठुकराया है, यह बात मंगलवार के दिन हॉंगकॉंग के अलग अलग हिस्सों में हुए प्रदर्शनों से स्पष्ट हुई है। चीन के नेताओं के विरोध में होनेवाला तीव्र असंतोष प्रदर्शनकारियों ने आगजनी एवं चीन समर्थक उपक्रमों को लक्ष्य करके व्यक्त किया। इन प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए हॉंगकॉंग की सुरक्षा यंत्रणा ने ‘लाईव्ह राउंडस्’ का इस्तेमाल किया है। इस दौरान हुई गोलीबारी में एक प्रदर्शनकारी को सीने में गोली लगने की गंभीर घटना होने की बात सामने आयी है।

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info