Breaking News

नयी महामारी छह महीने में तीन करोड से ज्यादा जाने लेगी विख्यात उद्यमी बिल गेट्स की चेतावनी

वॉशिंग्टन –  ‘हम सब जैसे जंग का मुकाबला करने की तैय्यारी करते है, उसी तरह भयावह महामारी का सामना करने की तत्परता दिखानी चाहिए। क्यों कि भयावह महामारी सिर्फ छह महीने में तीन करोड से ज्यादा लोगों की जान ले सकती है।’ ऐसी खलबली मचानेवाली चेतावनी ‘मायक्रोसॉफ्ट’ नामक विख्यात कंपनी के प्रमुख बिल गेट्स ने दी।

अमरिका की ‘मॅसेच्युसेट्स मेडिकल सोसायटी’ और ‘द न्यू इंग्लंड जर्नल ऑफ मेडिसिन’ द्वारा ‘एपिडेमिक्स गोईंग व्हायरल’ नाम के ‘फ्री लाईव्ह वेब इव्हेंट’ का आयोजन किया गया था। इस समय हुए बातचीत में बिल गेट्स द्वारा भविष्य में आनेवाली महामारी और उसके खिलाफ तैय्यारी के बारे में अपनी भूमिका सामने रखी गयी।

‘अमरिका के साथ सारी दुनिया नये महामारी के खिलाफ तैय्यारी को अनदेखा कर रही है। अगर दुनिया में तीन करोड लोगों को मारनेवाले हथियार बनाये जा रहे होतें तो दुनिया के सारे देश उसके खिलाफ तैय्यारी करने के लिए तत्परता से कदम उठाते। पर जैविक धोखे के खिलाफ तैय्यारी के लिए कोई भी तत्परता से गति देने को तैयार नही।’ ऐसा ठप्पा बिल गेट्स ने लगाया है।

‘दुनिया में जल्द ही नये जानलेवा बिमारी का फैलाव होने की संभावना है। अगर हम इतिहास की तरफ नजर डाले और ठीक तरह से जान ले तो हमे इसकी कल्पना आ सकती है। यह बात आनेवाले दशक में कभी भी हो सकती है और उसके लिए हमने सही तैयारी नही की है। हम पोलिओ और मलेरिआ जैसे बिमारियों पर जीत पाने के लिए ज्यादा प्रगति कर रहे है। पर महामारी के खिलाफ सज्जता दिखाने के लिए हम ज्यादा आगे नही जा सके।’ ऐसे स्पष्ट शब्दों में गेट्स ने अंतरर्राष्ट्रीय समुदाय को इसके धोखे के बारे में सतर्क किया।

बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा गेट्स पिछले कई सालों से आरोग्य क्षेत्र में सक्रिय रहे है और इस क्षेत्र में विविध उपक्रमों के लिए उन्होंने बडे पैमाने पर आर्थिक सहायता दी है। गेट्स द्वारा पिछले कई सालों से वैश्‍विक महामारी तथा जैविक आतंकवाद के मसले पर गंभीर चेतावनी दी जा रही है। उन्होंने इस मसले पर विविध देशों के प्रमुखों से बातचीत करने का वृत्त भी सामने आया है।

पिछले साल गेट्स ने, आतंकवादी जैविक हथियार का इस्तेमाल करते हुए एक साल में करीब तीन करोड लोगों की जान ले सकते है, ऐसा दावा किया था। उस वक्त बिल गेट्स द्वारा जागतिक सुरक्षा को जैविक दहशतवाद के माध्यम से होनेवाले धोखे के बारे में सतर्क भी किया गया था। यह धोखा ‘क्लायमेट चेंज’से भी ज्यादा खतरनाक होगा ऐसा दावा गेट्स ने किया था।

जैविक आतंकवाद और महामारी के बारे में बिल गेट्स द्वारा दी जा रही चेतावनी इसकी गंभीरता को बढानेवाली है। परमाणु तथा रासायनिक हथियारों के प्रसार के खिलाफ दुनिया अधिक संवेदना दिखा रही है। सीरिया में हुए रासायनिक हमले के बाद अमरिका, फ्रान्स और ब्रिटन द्वारा सीरिया पर आक्रामक हवाई हमले हुए थे। पर जैविक हमले की भयावहता जानकर उसके बारे में ज्यादा जागरुकता नही दिखायी जाती, ऐसी तकरार कुछ विशेषज्ञ करते है।

 

English  मराठी

 

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info/status/990870614759165952
https://www.facebook.com/WW3Info/posts/388501454891678