Breaking News

ईरान में आत्मघाती हमलावरों का ‘रेजिस्ट्रेशन’ शुरू – अमरिका-इस्रायल पर हमलें करने के लिए ईरानी छात्रों ने ही पहल करने का माध्यमों में दावा

तेहरान/वॉशिंग्टन – कासेम सुलेमानी की हत्या का बदला लेने के उद्देश्य से अमरिका और इस्रायल पर आत्मघाती हमलें करने के लिए तैयार लोगों के नामों कारेजिस्ट्रेशनईरान के विश्वविद्यालय में हो रहा है| ईरान के माध्यमों ने ही इस जानकारी को प्रसिद्धी देकर सनसनी फैलाई है| इसके अलावा आत्मघाती हमलावर होने की अर्जी भी ईरानी माध्यमों ने वेबसाईट पर सार्वजनिक की है| ईरान के हाथों में अमरिका की तरह लष्करी सामर्थ्य नही होगा, पर आतंकी हमलों के जरिए ईरान यकिनन अमरिका और इस्रायल को काफी परेशान कर सकता है, यही संदेशा इसके जरिए ईरानी हुकूमत दे रही है|

ईरान के सर्वोच्च धार्मिक नेता आयातुल्ला खामेनी का संदेशा भी इस अर्जी में दर्ज है| ‘कासेम सुलेमानी की हत्या करनेवाले गुनाहगारों पर बदला ले| इन दगाबाजों को खतम करें| इसके लिए योजना तैयार की जा रही है और अमरिका एवं इस्रायल पर हमलें करने के लिए आत्मघाती हमलावरों की जरूरत है| इसके लिए यह आवेदन पत्र भरें’, यह निवेदन फार्सी भाषा में प्रसिद्ध किए इन आवेदन पत्र में दर्ज है| ईरान की हुकूमत से परेशान होकर भागेंआमिर अब्बास फखरावरने अमरिकी समाचार पत्र के लिए इस अर्जी का भाषांतर किया है|

आत्मघातील हमलावर तैयार करने लिए जारी किए गए इन आवेदन पत्रों का वितरण ईरान कीइस्लामिक आजाद विद्यापीठमें हो रहा है| तैयार छात्रों को अपना नाम, जन्मदिनांक, शिक्षा पात्रता, व्यवसाय, फोन नंबर एवं अपनी विशेष कुशलता की जानकारी इस आवेदन पत्र में दर्ज करने के लिए कहा गया है| ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्डस् से जुडी छात्र संगठनबसिज मिलिशियाइन आवेदन पत्रों का वितरण कर रही है, यह बात अमरिकी समाचार पत्र ने सार्वजनिक की है|

एक समय पर कासेम सुलेमानी नेबसिज मिलिशयाका नेतृत्व किया था| अब यही संगठन आत्मघाती हमलावर होने के लिए तैयार लोगों कीरेजिस्ट्रेशनकर रही है| साथ ही ईरानी हुकूमत के विरोध में देश में हो रहे प्रदर्शन कुचलने के उद्देश्य से हिंसा करने के लिए भी इस संगठन का इस्तेमाल होने का आरोप रखा जा रहा है|

इसी बीच, अमरिका और इस्रायल पर हमलें करने के लिए ईरान की हुकूमत विश्वविद्यालय का इस्तेमाल कर रही है तभी ईरान की हुकूमत के विरोध में जारी प्रदर्शनों में छात्रों का सहभाग भी बढ रहा है| इस प्रदर्शनों का केंद्र भी ईरान के विश्वविद्यालयों में ही होने की खबरें सामने रही थी| कुछ जगहों पर युवकों ने ईरानी नेताओं के पोस्टर्स फाडने के वीडियोज् भी प्रसिद्ध हुए  है|

साथ ही अमरिका और इस्रायल का झंडा पैरों तलें कुचलने से इन्कार  करके, ऐसी हरकत करनेवालों का निषेध करने की घटना में ईरान में हुई है| अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने इस खबर का संज्ञान लेकर ईरानी प्रदर्शनकारियों की सराहना की है| साथ ही इन प्रदर्शनकारियों की हत्या ना करें, यह इशारा भी उन्होंनें दिया है और प्रदर्शनकारियों की हत्या करने पर ईरान को कडे परिणाम भुगतने होंगे, यह धमकी भी अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने दी है|

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info