Breaking News

पर्शियन खाड़ी में ईरान की गश्तीनौकाओं को अमरीका की चेतावनी

मनामा – ‘पर्शियन खाड़ी में प्रवास करनेवाले जहाज़ अमरीका के युद्धपोतों से सौ मीटर का फ़ासला रखकर ही प्रवास करें। अन्यथा इस जहाज़ से हमारे युद्धपोत को ख़तरा है ऐसा मानकर, स्वसुरक्षा के लिए आवश्यक कार्रवाई की जायेगी’, ऐसी चेतावनी अमरीका की नौसेना ने दी है। किसी भी देश का नामोल्लेख ना करते हुए अमरिकी नौसेना ने दी हुई यह चेतावनी ईरान के संदर्भ में है, यह स्पष्ट हो रहा है। पिछले महीने ईरान की गश्तीनौकाओं ने अमरीका के युद्धपोत का ख़तरनाक तरीक़े से पीछा किया था। उस पृष्ठभूमि पर, अमरीका ने यह चेतावनी दी हुई दिख रही है। वहीं, अमरिकी नौसेना की इस चेतावनी की परवाह न करते हुए, पर्शियन खाड़ी में अपनी नौसेना की गश्ती जारी रहेगी, ऐसा जवाब ईरान ने दिया है।

पर्शियन खाड़ी में तैनात अमरीका के पाँचवें बेड़े की प्रवक्ता कमांडर रिबेका रेबारीच ने यह चेतावनी दी। ‘पर्शियन खाड़ी में अमरीका की तैनाती सुरक्षा के लिए होकर, यह किसी एक देश के विरोध में नहीं है। ऐसी परिस्थिति में यदि अमरिकी युद्धपोत से १०० मीटर से कम दूरी पर किसी देश के जहाज़ ने प्रवास किया, तो उसे अपनी सुरक्षा के लिए घातक मानकर उसके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई करने का पूर्ण अधिकार अमरीका को होगा’, ऐसा अमरीका की कमांडर रेबारीच ने डटकर कहा है। इससे पहले भी अमरिकी नौसेना ने इसी प्रकार की भूमिका अपनायी थी। अब केवल नये से इसकी जानकारी दी जा रही है, ऐसा भी रेबारीच ने स्पष्ट किया।

पर्शियन खाड़ी में गश्ती करनेवाले ईरान के लिए अमरीका की यह चेतावनी है, यह साफ़ साफ़ दिखायी दे रहा है। पिछले महीने में ईरान की लगभग ११ गश्तीनौकाओं ने पर्शियन खाड़ी में प्रवास करनेवाले अमरिकी युद्धपोत के नज़दीक से ख़तरनाक प्रवास किया था। ये ईरान की गश्तीनौकाएँ अमरिकी युद्धपोत से केवल दस मीटर की दूरी पर से प्रवास कर रही थीं, ऐसा आरोप अमरिकी नौसेना ने किया था। ईरान की गश्तीनौकाएँ यदि अमरीका के युद्धपोत से टकरातीं, तो पर्शियन खाड़ी में संघर्ष का बड़ा विस्फोट हो सकता था, ऐसी चेतावनी भी अमरीका की नौसेना ने उस समय दी थी। उसके बाद राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने अपनी नौसेना को, इसके बाद ईरान की गश्तीनौकाओं पर कार्रवाई करने के आदेश दिए थे। अमरीका की नौसेना ने अब दी हुई यह चेतावनी भी राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प के उस आदेश का अगला चरण दिखायी दे रही है।

अमरिकी नौसेना की चेतावनी का ईरान ने बुधवार को जवाब दिया। केवल अमरीका ने चेतावनी दी, इसलिए ईरान के जहाज़ों की पर्शियन खाड़ी तथा ओमान की खाड़ी में गश्ती बंद नहीं होगी। इसके बाद भी यह गश्ती जारी रहेगी, ऐसी घोषणा ईरान की नौसेना ने की। पिछले महीने अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष ने अपनी नौसेना को कार्रवाई के आदेश देने के बाद, ईरान ने भी अमरीका को धमकाया था। यदि अमरीका के कारण पर्शियन खाड़ी की सुरक्षा ख़तरे में पड़ जाती है, तो अमरीका के युद्धपोतों को जलसमाधि दिलायेंगे, ऐसी धमकी ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्डस ने दी थी।

English     मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info