Breaking News

शीतयुद्ध के दौर की रशिया से भी चीन की कम्युनिस्ट पार्टी का खतरा अधिक भयंकर – अमरिकी विदेशमंत्री माईक पोम्पिओ

प्राग – फिलहाल विश्‍व में जो कुछ हो रहा है वह शीतयुद्ध 2.0 नहीं है। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने विश्‍व के अधिकांश देशों की अर्थव्यवस्था में, राजनीति में और समाज व्यवस्था में घुसपैठ करने में कामयाबी पाई है। यह बात सोवियत युनियन को भी संभव नहीं हुई थी। इस वजह से चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की हरकतों का खतरा शीतयुद्ध के दौर के रशियन संघराज्य से भी अधिक भयंकर है, यह आलोचना अमरिकी विदेशमंत्री माईक पोम्पिओ ने की। बीते महीने में अमरिकी विदेशमंत्री ने चीन की कम्युनिस्ट हुकूमत का ज़िक्र भस्मासुर के तौर पर करके जोरदार हमला किया था।

माईक पोम्पिओ

विदेशमंत्री पोम्पिओ फिलहाल पांच दिनों का यूरोप दौरा कर रहे हैं। उनके इस दौरे की शुरूआत ज़ेक रिपब्लिक से हुई। चीन के विरोध में अमरीका ने बनाया मोर्चा और भी व्यापक करना और अमरीका एवं यूरोप का सहयोग मज़बूत करना ही उनके इस दौरे का मुख्य उद्देश्‍य है। बुधवार के दिन ज़ेक रिपब्लिक की संसद को संबोधित करते समय अमरिकी विदेशमंत्री ने यह याद ताजा की है कि, इस देश ने शीतयुद्ध के दौर में रशियन कम्यूनिज़म के विरोध में योगदान दिया था।

झूठी जानकारी का प्रचार और सायबर हमलों के माध्यम से रशिया आज भी ज़ेक रिपब्लिका जनतंत्र और सुरक्षा कमज़ोर करने की कोशिश कर रहा है। लेकिन, चीन की हुकूमत ने इस देश के अलग अलग क्षेत्रों में घुसपैठ करने के लिए शुरू की हुई गतिविधियां और नियंत्रण की कोशिश रशिया से बने उस समय के खतरे से कई गुना अधिक बड़ा है। ज़ेक रिपब्लिक के औद्योगिक क्षेत्र की जानकारी की चोरी हो रही है। राजनीतिक नेता और सुरक्षा बलों के विरोध में प्रचार मुहीम चलाई जा रही है। आर्थिक ताकत का इस्तेमाल करके आज़ादी छीनने की कोशिश हो रही है। व्यापारी वर्चस्व का इस्तेमाल करके चीन की कम्युनिस्ट पार्टी कई देशों पर जबरदस्ती कर रही है, इन शब्दों में अमरिकी विदेशमंत्री ने चीन की कम्युनिस्ट हुकूमत पर कड़ा प्रहार किया।

माईक पोम्पिओ

प्राग शहर के मेयर ने तैवान के समर्थन की भूमिका अपनाने से चीन की कम्युनिस्ट हुकूमत ने ज़ेक रिपब्लिक के संगीतकारों के गुट का दौरा रद किया था, यह याद भी पोम्पिओ ने इस दौरान ताज़ा की। चार दशकों से अधिक समय तक कम्युनिस्ट हुकूमत का अनुभव करते समय ज़ेक जनता ने बड़े अत्याचारों का सामना किया। कम्यूनिज़म समाज व्यवस्था तहस नहस करके समाज को कैसे डुबोता है, यह बात इस देश की जनता अच्छी तरह से जानती है। इसके विरोध में इस देश की जनता पहले जीस तरह से खड़ी हुई थी उसी तरह से अब संप्रभुता और आज़ादी के लिए खड़े होने की आवश्‍यकता है, यह आवाहन अमरिकी विदेशमंत्री ने ज़ेक रिपब्लिक की संसद में किया।

अमरिकी विदेशमंत्री ने की हुई आलोचना के विरोध में चीन ने कड़ी प्रतिक्रिया दर्ज़ की है। पोम्पिओ जिस देश में जाते हैं उस देश में राजनीतिक विषाणु और झूठी जानकारी का फैलाव करते हैं। चीन और चीन की शासक कम्युनिस्ट पार्टी के विरोध में उनकी हो रही बयानबाजी शीतयुद्ध के समय की मानसिकता और स्वार्थी वृत्ती की प्रदर्शक है, यह आरोप चीन के विदेश विभाग के प्रवक्ता ने किया है।

English      मराठी

या बातमीबाबत आपले विचार आणि अभिप्राय व्यक्त करण्यासाठी खाली क्लिक करा:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info