Breaking News

सलाखों में जकडा सैतान मृत्यु के समिप हो तब भी सैतान के चंगुल में कभी भी मत फँसना – पोप फ्रांसिस का आवाहन

व्हॅटिकन सिटी – ‘सैतान (डेव्हिल) मृत्यु के समिप है। ऐसा है फिर भी उसके नजदीक मत जाईए। क्योंकि सलाखों में जकड़ने की वजह से परेशान कुत्ते की तरह वह तुमको कांट सकता है। इसलिए हमे सैतान के चंगुल में नही फंसना है। ईश्वर की प्रार्थना करके उसका सामना करना चाहिए’, ऐसा सन्देश ख्रिस्तधर्मियों के सर्वोच्च धर्मगुरु पोप फ्रांसिस ने दिया है। साथ ही कोई भी सैतान ने आकर्षक पैकेट में दिए भेंट वस्तुओं को स्वीकार न करे, ऐसी चेतावनी पोप फ्रांसिस ने दी है।

वर्तमान में सैतान मृत्यु के समिप है। सामान्य लोग इस पर विश्वास नहीं रखते। क्योंकि सैतान अपनी ताकत का प्रदर्शन करके स्वयं को सर्वशक्तिमान बताता है। उसकी मौत नजदीक आई है, लेकिन उसके नजदीक नहीं जाना चाहिए। सलाखों में जकड़ा हुआ कुत्ता जैसे हमें कांट सकता है, वैसे ही सैतान हमारे साथ कर सकता है। मगरमच्छ की शिकार करने वाले मगरमच्छ घायल होने के बाद भी पूंछ से जानलेवा हमला कर सकता है, ऐसा अनुभव बयान करते हैं। सैतान के मामले में भी वैसा ही हो सकता है’, ऐसा कहकर पोप फ्रांसिस ने इससे सतर्क रहने की सलाह दी है।

‘सैतान हमें आकर्षक पैकेट में बांधकर उपहार देकर और मीठे शब्दों से प्रभावित करने की कोशिश करता है। लेकिन उनके आकर्षक दिखने वाले उपहार निश्चित रूपसे क्या हैं, यह वह कभी भी समझने नहीं देता। उसकी तरफ से आए हुए सभी प्रस्ताव मतलब भ्रम होते हैं और हम उसमें फंस जाते हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए। सैतान की तरफ से आने वाले इन लालच की चमक कभी भी हमेशा के लिए नहीं होती है। कुछ समय बाद उसकी चमक खत्म होती है। यह चमक ईश्वर की चमक की तरह शांत और चिरस्थायी नहीं होती है’, ऐसा पोप फ्रांसिस ने आगे कहा है।

व्हॅटिकन में आयोजित किए गए प्रार्थना सभा को संबोधित करते समय पोप फ्रांसिस ने भाविकों को यह सन्देश दिया है। कुछ दिनों पहले पोप फ्रांसिस ने इसी तरह का सन्देश देकर भाविकों को सतर्क किया था। ईश्वरी मार्ग का स्वीकार करते समय सैतान को अस्वीकार करना ही पड़ता है, और यह अस्वीकार हमेशा के लिए होना चाहिए, ऐसी पोप फ्रांसिस ने चेतावनी दी थी। इसके कुछ हफ़्तों पहले पोप फ्रांसिस ने सैतान मतलब मिथक नहीं है, सैतान मतलब एक संकल्पना नहीं है, वह वास्तव में है, ऐसी चेतावनी दी थी। साथ ही उससे संपर्क करके उसके चंगुल में न फँसने का आवाहन पोप ने किया था।

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info/status/994907472342106113
https://www.facebook.com/WW3Info/posts/392537307821426