Breaking News

‘अहवाझ’ हमलों के आतंकियों को निशाना बनाने के लिए ईरान के सीरिया पर प्रक्षेपास्त्र हमले

तेहरान – ईरान का परमाणू कार्यक्रम और सीरिया में ईरानी सेना की तैनाती से अमरीका और इस्रायल समेत जहॉं तनाव बढ़ रहा है वही ईरान ने सीधे सीरिया में प्रक्षेपास्त्र हमले चढाएँ। पिछले महीने ईरान के ‘अहवाझ’ शहर में सैनिकी संचलन पर हमला करने वाले आतंकियों के सीरिया स्थित मुख्यालय को निशाना बनाने की जानकारी ईरान के ‘रिव्होल्युशनरी गार्ड्स’ ने दी। वहीं ईरान के प्रक्षेपास्त्र सीरिया में अमरीकी सेना के बेस के करीब गिरने की जानकारी सामने आ रही है।

‘अहवाझ’, Ahvaj attack, प्रक्षेपास्त्र हमले, Ahvaj, प्रक्षेपास्त्र, missiles, सैनिकी संचलन, world war 3, ईरान, अमरीकी सेना बेस

ईरान के ‘रिव्होल्युशनरी गार्ड्स’ के संकेतस्थल पर सोमवार को जारी की गई जानकारी में सीरिया में आतंकियों के मुख्यालय को निशाना बनाया गया। बीच रात दो बजे ईरान के ‘एअरोस्पेस डिविजन’ ने सीरिया से बहने वाली युफ्रेटस नदी के पूर्वीय इलाके में छह प्रक्षेपास्त्र डागी। ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्ड्स ने ‘कियाम’ और ‘झोल्फाघर’ इन मिडियम रेंज के प्रक्षेपास्त्रों का इस्तमला किया।

वायव्य ईरान के ‘केरमानशाह’ शहर से प्रक्षेपास्त्र डागे गए। वहीं ईरान के प्रक्षेपास्त्रों ने करीब ५७० किलोमीटर का अंतर काटते हुए सीरिया के ‘देर अल-झोर’ में आतंकियों के ठिकानों पर हमले चढाए। ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्ड्स ने कहा है कि, इन हमलों में आतंकियों को बडी जानमान सहनी पडी।

ईरान में हुए हमलों का राहनुमा और इस संगठन के कुछ नेता इसमें मारे जाने का दावा किया जाता है। साथही ये जानकारी रिव्होल्युशनरी गार्ड्स से जारी होने के पहले ईरान की समाचार वाहिनी पर प्रक्षेपास्त्र के विडिओ प्रकाशित किए गए। इससे सीरिया में किए गए हमले सफल होने का दावा रिव्होल्युशनरी गार्ड्स ने किया।

इन प्रक्षेपास्त्र हमलों के साथ सीरिया के इस इलाके में ड्रोन हमले चढाने का दावा भी इस संकेतस्थल पर किया गया। इन हमलों में आतंकियों के हथियारों का गुदाम राख होने की जानकारी ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्ड्स ने दी।

दक्षिण ईरान के ‘अहवाझ’ इलाके में पिछले महीने रिव्होल्युशनरी गार्ड्स के सैनिकी संचलन के समय आतंकियों ने की गोलीबारी में २५ लोग मारे गए वहीं ७० घायल हुए थे। मारे गए लोगों में ‘रिव्होल्युशनरी गार्ड्स’ के जवानों की तादात बडी थी। ‘आयएस’ साथही ईरान के ‘अल-अहवाझिया’ इन आतंकी संगठनों ने इस हमले की जिम्मेदारी स्वीकारी थी। ‘आयएस’ ने ईरान पर और हमले चढ़ाने की धमकी भी दी थी। इस पृष्ठभूमी पर ईरान ने ये हमले किए ऐसा कहा था।

दौरान, ईरान ने ‘अहवाझ’ में हमलों के लिए सीरिया में प्रक्षेपास्त्रों का हमले करने की घटना पर इस्रायली माध्यमों ने भौहें उठाई है। ‘युफ्रेटस नदी’ के पूर्वी इलाके में अमरीकी सेना का बेस है। इस बेस से लगभग तीन मिल की दूरी पर ईरान के ये प्रक्षेपास्त्र गिरने की जानकारी कुछ एजन्सीयों ने जारी की है। अमरीका ने फिलहाल इसे मान्यता नहीं दी है। लेकिन आनेवाले समय में इन हमलों को अमरीका का जवाब जरूर मिलेगा, ऐसे संकेत मिल रहे है।

English मराठी

 

या बातमीबाबत आपले विचार आणि अभिप्राय व्यक्त करण्यासाठी खाली क्लिक करा:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info