Breaking News

चीन की अर्थव्यवस्था की गिरावट जारी है – प्रधानमंत्री ली केकिआंग इन्होंने स्वीकारा

बीजिंग  – ‘चीन की अर्थव्यवस्था काफी दबाव में है और उसकी गिरावट जारी है| दुनिया में दुसरे पायदान की अर्थव्यवस्था की यह गिरावट अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में बने दबाव की वजह से हो रही है| यह गिरावट रोकने के लिए चीन कडे उपाय करेगा’, इन शब्दों में चीन के प्रधानमंत्री ली केकिआंग इन्होंने चीन की अर्थव्यवस्था में सब कुछ ठिक ना होने की बात स्पष्ट रुप से स्वीकारी है| सिर्फ २४ घंटों पहले ही चीन की अर्थव्यवस्था का प्रमुख आधार समझा जा रहे औद्योगिक उत्पाद की मात्रा १७ वर्षों के निचले स्तर पर पहुंचने की बात स्पष्ट हुई है| इस पृष्ठभूमि पर केकिआंग इन्होंने चीन की अर्थव्यवस्था की हुई गिरावट की बात स्वीकारना अहम बात साबित होती है|

चीन की अर्थव्यवस्था, गिरावट, ली केकिआंग, व्यापार युद्ध, जिम्मेदारी स्वीकारी, ww3, विकास दर

पिछले कुछ महीनों से चीन की अर्थव्यवस्था लगातार गिरावट का सामना कर रही है| पिछले वर्ष के आखिरी दौर में चीन की अर्थव्यवस्था ने तीन दशकों के निचले स्तर पर पहुंचने की बात स्पष्ट हुई थी| उसके बाद चीन की अर्थव्यवस्था के प्रमुख अंग रहे आयात-निर्यात के साथ व्यापार का लाभ, अतर्ंगत मांग, शेअर बाजार, गृहनिर्माण क्षेत्र में हुआ निवेश के बारे में सामने आ रहे रपट लगातार गिरावट के संकेत देनेवाले थे|

लेकिन, इस स्थिति में भी चीन की हुकूमत अर्थव्यवस्था की गिरावट हो रही है, इस बारे में जाहीर तौर पर स्वीकार नही कर रही थी| उलटा, चीन के नेता नकारात्मक निकाल यानी अर्थव्यवस्था में बदलाव करने के लिए शुरू सुधार का परीणाम होने की बात कह रहे थे| उसी समय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अहम वित्तसंस्था चीन मंदी की बढ रहा है, यह इशारा देकर इससे बनते खतरों के बारे में लगातार सावधान कर रहे थे| लेकिन, चीन ने इस ओर नजरअंदाजी करके अर्थव्यवस्था की हो रही गिरावट का इन्कार किया था|

शुक्रवार के दिन प्रधानंत्री केकिआंग इनके वक्तव्य से चीन पहली बार अर्थव्यवस्था की गिरावट का सामना करने की तैयारी कर रहा है, यह संकेत प्राप्त हुए है| अर्थव्यवस्था पर दबाव होने की एवं उसकी गिरावट होने की बात चीन ने स्वीकार करना अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के लिए एक निर्णायक घटना साबित होती है| इसके पहले चीन के प्रमुख नेताओं ने देश की अर्थव्यवस्था की बनी नकारात्मक स्थिति की जिम्मेदारी स्वीकारी है, यह बात कभी भी दिखाई नही दी थी|

चीन ने अर्थव्यवस्था की हुई गिरावट की बात स्वीकारने के पिछे अमरिका के साथ शुरू व्यापार युद्ध एवं उस बारे में शुरू चर्चा अहम घटक हो सकती है, यह दावा कुछ विश्‍लेषक कर रहे है| अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष ने चीन के साथ व्यापारी करार करने के लिए सकारात्मकता दिखाई है, फिर भी इस चर्चा के लिए विशेष शीघ्रता नही है, यह लगातार सूचित किया है| इस वजह से चीन में चिंता का माहौल है और व्यापारी बातचीत सफल होने के लिए समझौता करने के लिए तैयार होने का संदेशा चीन से लगातार दिया जा रहा है| अर्थव्यवस्था में गिरावट जारी है, यह बात स्वीकारना यह भी उसी का हिस्सा होने की संभावना ठुकराई नही जा सकती|

कुछ दिन पहले संसद में प्रधानमंत्री केकिआंग इन्होंने नजदिकी समय में अर्थव्यवस्था के सामने बडे खतरे एवं चुनौती है और स्थिति जटिल होने का वक्तव्य किया था| इसी बीच वर्ष २०१९ में चीन की अर्थव्यवस्था छह प्रतिशत के नजदिकी विकास दर प्राप्त कर सकेगी, यह संकेत भी चीन के प्रधानमंत्री ने दिए थे| लेकिन, उस बार भी उन्होंने गिरावट की बात जाहीर तौर पर स्वीकार नही की थी|

इस दौरान, चीन के प्रधानमंत्री ने अर्थव्यवस्था की गिरावट हो रही है, यह बात स्वीकार ने से जागतिक अर्थव्यवस्था से नकारात्मक प्रतिक्रिया प्राप्त हो सकती है, ऐसे संकेत कुछ अर्थतज्ञ दे रहे है|

English  मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info