Breaking News

‘राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प, कृपया हॉंगकॉंग को चीन से आजाद करें’ – हॉंगकॉंग के प्रदर्शनकारियों ने रखी मांग

हॉंगकॉंग/वॉशिंगटन – अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प हॉंगकॉंग में जनतंत्र के लिए शुरू प्रदर्शनों का साथ दे और हॉंगकॉंग को चीन से आजाद करें, यह मांग हॉंगकॉंग की जनता ने प्रदर्शनों के दौरान पोस्टर लगाकर की| रविवार के दिन हॉंगकॉंग में हुए प्रदर्शनों के दौरान यह पोस्टर देखे गए| पिछले तीन महीनों से चीन और चीन समर्थक प्रशासन के विरोध में डटकर खडी रही हॉंगकॉंग की जनता ने अब अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने चीन से आजादी दिलाने की मांग खुले आम रखना शुरू किया है| रविवार के दिन हुए प्रदर्शनों के दौरान यह बात बडी तीव्रता से सामने आयी|

पिछले सप्ताह में हॉंगकॉंग की चीन समर्थक प्रशासन के प्रमुख कैरी लैम ने विवादित प्रत्यर्पण विधेयक पीछे लेने का ऐलान किया था| हॉंगकॉंग में हो रहे प्रदर्शन इसी विधेयक के विरोध में शुरू हुए थे| इस कारण लैम की घोषणा हॉंगकॉंग के प्रदर्शन शांत करेगी, यह उम्मीद लैम ने रखी थी| लेकिन, विधेयक पीछे लेने का निर्णय करने में काफी देरी हुई है, यह कहकर प्रदर्शनकारियोंने अपनी लडाई आगे भी शुरू रहेगी, यह ऐलान किया| विधेयक रद्द करने के साथ ही पुलिस की कार्रवाई की जांच और अन्य सुधारों के संबंधी रखी मांगें पूरी होने तक यह प्रदर्शन जारी रहेंगे, ऐसा प्रदर्शनकारियों ने कहा है|

इससे हॉंगकॉंग में शुरू प्रदर्शनों को नई गति प्राप्त हुई है और इन प्रदर्शनों की व्याप्ति फिर एक बार बढने की बात दिखाई देने लगी है| रविवार के दिन हॉंगकॉंग में सैकडों प्रदर्शनकारियों ने शहर में अमरिकी दूतावास के सामने डेरा जमाया| इस दौरान प्रदर्शनकारियों के हाथ में, ‘प्रेसिडंट ट्रम्प, प्लीज लिबरेट हॉंगकॉंग’, ‘ह्युमन राईटस्’, ‘डेमोक्रसी’ यह लिखे पोस्टर भी पकडे थे| साथ ही प्रदर्शनकारी ‘प्रेसिडंट ट्रम्प, प्लीज स्टैंड विथ हॉंगकॉंग’, ‘फाईट फॉर फ्रीडम’ यह नारे भी दे रहे थे|

अमरिकी संसद में हॉंगकॉंग के प्रदर्शनों के मुद्दे पर एक विधेयक  रखा गया है| इसमें प्रदर्शनकारियों के विरोध मैं कार्रवाई कर रहे और इस संबंधी निर्णय करने में शामिल चीन एवं हॉंगकॉंग के अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाने का प्रावधान है| चीन एवं हॉंगकॉंग के चीन समर्थक प्रशासन ने इस विधेयक पर कडी नाराजगी व्यक्त की है| चीन की हुकूमत ने इससे पहले भी समय समय पर अमरिका हॉंगकॉंग के प्रदर्शनों में हस्तक्षेप कर रही है, यह आरोप किया है| इस का जिक्र चीन ने ‘ब्लैक हैंडस्’ ऐसा किया था| हॉंगकॉंग के प्रदर्शनों में अमरिका एवं ब्रिटेन के राष्ट्रध्वज भी फहराए गए थे|

अमरिका के रक्षामंत्री मार्क एस्पर ने शनिवार के दिन एक वक्तव्य में चीन की हुकूमत हॉंगकॉंग संबंधी संयम दिखाए, यह इशारा दिया था| राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने पिछले महीने में हॉंगकॉंग के मुद्दे पर अपनी भूमिका स्पष्ट करते समय चीन इस समस्या पर मानवतावादी भूमिका से एवं बातचीत से हल निकालेगा, यह उम्मीद व्यक्त की थी| इस पृष्ठभूमि पर हॉंगकॉंग के प्रदर्शनकारियों ने सीधे अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष को निवेदन करना ध्यान आकर्षित कर रहा है|

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info