Breaking News

उडन तश्करी के वीडियो में सच्चाई – अमरिकी नौसेना ने स्वीकार किया

वॉशिंगटन – अमरिकी प्रसारमाध्यम?और सार्वजनिक संस्थाओं से प्रदर्शित किए गए उडन तश्करी के तीनों वीडियो असली होने की सच्चाई अमरिकी नौसेना ने स्वीकारी है| उडन तश्करी (अनआयडेंटिफाईड फ्लाईंग ऑब्जेक्ट) संबंधी बात इस तरह स्वीकारने का यह पहला अवसर है| यह बात स्वीकार ने से प्रसारमाध्यम और सोशल मीडिया पर परग्रहवासी एवं उडन तश्करी संबंधी मुद्दे पर बडी चर्चा शुरू हुई है|

अमरिका के ‘एफ-१८’ इस लडाकू विमान के गन कैमेरे से नवंबर २००४, जनवरी २०१५ में तीन घटनाएं फिल्म की गई थी| इन तीनों वीडियों में उडन तश्करीयों जैसा कुछ दिखाई दे रहा था और विमान के चालक भी इस के बारे में बोलते देखे गए थे| इन वीडियों को ‘गिंबल’, ‘फ्लिर१’ और ‘गो फास्ट’ यह नाम दिए गए है|

‘टॉम डिलॉंज’, ‘टू द स्टार्स एकेडमी ऑफ आर्टस् ऍण्ड सायन्स’ और ‘द न्यूयॉर्क टाईम्स’ ने एक साथ वर्ष २०१७ और २०१८ में यह तीनों वीडियो प्रसिद्ध किए थे| इसके बाद अमरिका के भूतपूर्व सिनेटर हैरी रीड ने इस घटना की जांच करने की मांग की थी| इसके बाद ‘पेंटॅगॉन’ ने इस घटना पर स्वतंत्र जांच शुरू करने की बात स्पष्ट हुई थी| इस मुद्दे पर अमरिका के रक्षा विभाग ने संसदीय समिती के चुने हुए सांसदों को इस घटना की जानकारी देने की खबर प्रसिद्ध हुई थी|

जुलाई महीने में अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने ‘फॉक्स न्यूज’ इस समाचार चैनल को दिए मुलाकात में इस घटना का जिक्र किया था| मुलाकात के दौरान ट्रम्प ने उडन तश्करी संबंधी पुछे गए सवाल का जवाब देते समय, हम इस पर विश्‍वास नही करते, पर कुछ भी मुमकिन है, यह कहा था| अब अमरिकी नौसेना ने उडन तस्करी के वीडियो की सच्चाई स्वीकार करने से यह मुद्दा फिर से चर्चा में आने के संकेत प्राप्त हुए है|

अमरिकी नौसेना वर्णित घटना के वीडियो की सच्चाई स्वीकारते समय अनआयडेंटिफाईड फ्लाईंग ऑब्जेक्ट यह जिक्र किया नही है, इसके बजाए इन्हें ‘अनआयडेंटिफाईड एरिअल फेनॉमेना’ कहा है|

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info