Breaking News

पैसिफिक क्षेत्र के सॉलोमन आयलैंड के द्विप पर चीन का कब्जा

बीजिंग – दुसरें विश्‍वयुद्ध के दौरान पैसिफिक क्षेत्र में हुए संघर्ष का हिस्सा रहें ‘तुलागी आयलैंड’ पर चीन ने कब्जा किया है| पैसिफिक क्षेत्र के ‘सॉलोमन आयलैंड’ इस देश का हिस्सा होनेवाले द्विप का कब्जा करने के लिए चीन ने पिछले महीने में समझौता किया है, यह जानकारी यूरोपियन वृत्तसंस्था ने दी है| इसके अनुसार सॉलोमन आयलैंड ने अपना तुलागी आयलैंड यह द्विप चीन के चाइना सैम नाम की कंपनी को सौपा है और इस दौरान हुए समझौते में इस द्विप के साथ ही नजदिकी द्विपों का इस्तेमाल करने की अनुमति भी प्रदान की गई है| कुछ दशकों से तैवान के साथ राजनयिक संबंध रखनेवाले सॉलोमन आयलैंड ने पिछले महीने में यह संबंध तोडकर चीन से नजदिकीयां बनाई थी|

पिछले कुछ वर्षों में चीन ‘इंडो पैसिफिक’ समेत पूरे पैसिफिक महासागर में अपना प्रभाव बढाने के लिए काफी कोशिश कर रहा है| इसके लिए चीन ने अपने आर्थिक सामर्थ्य का इस्तेमाल करना शुरू किया था| पैसिफिक क्षेत्र में आठ आयलैंड नेशन्स को लगभग दो अरब डॉलर्स की आर्थिक सहायता एवं कर्ज चीन ने प्रदान किए है, यह बात अलग अलग रपटों से सामने आयी थी| कुछ महीनों पहले ऑस्ट्रेलिया में नियुक्त अमरिका के राजदूत ने चीन पैसिफिक क्षेत्र के देशों को असुरिक्षत कर्ज के जाल में फंसाने की निती पर अमल कर रहा है, यह इशारा भी दिया था|

चीन की इन हरकतों के विरोध में अमरिका ने मोर्चा खोला है और जापान, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड एवं भारत की सहायता से चीन के कदम रोखने के लिए जरूरी कोशिश शुरू की थी| ऑस्ट्रेलिया, जापान और अमरिका ने पैसिफिक क्षेत्र के देशों की सहायता करने के लिए स्वतंत्र यंत्रणा का निर्माण भी किया है और करीबन एक अरब डॉलर्स का प्रावधान करने के संकेत भी दिए थे| न्यूजीलैंड ने पिछले वर्ष पैसिफिक रिसेट निती का ऐलान करके इस क्षेत्र के देशों के लिए करीबन ५० करोड डॉलर्स की अतिरिक्त वित्तीय सहायता करने के लिए प्रावधान करने का ऐलान किया था| चार महीनों पहले ही ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने सॉलोमन आयलैंड की यात्रा करके २५ करोड डॉलर्स की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया था|

इस पृष्ठभूमि पर सॉलोमन आयलैंड ने तैवान के साथ तोडे हुए संबंध और अब चीन को अपना द्विप प्रदान करने के लिए किया समझौता झटका देनेवाला साबित हो रहा है| सॉलोमन आयलैंड यह ऑस्ट्रेलिया से काफी नजदिक होनेवाला देश है औड़ उसके द्विपों पर चीन का कब्जा होना ऑस्ट्रेलिया को और भी चिंतित कर रहा है| तुलागी आयलैंड यह द्विप एक समय पर जापान की नौसेना के अड्डे के तौर पर जाना जाता था| चीन ने यह द्विप ईंधन प्रक्रिया के लिए प्राप्त किया है, फिर भी इस द्विप का इस्तेमाल लष्करी अड्डे के तौर भी होने की संभावना से इन्कार नही हो सकता| लष्करी अड्डे के लिए जरूरी डीप पोर्ट वर्ग का क्षेत्र इस द्विप पर मौजूद होने से भी यह संभावना और भी बडी है|

पिछले महीने में चीन ने साउथ चाइना सी में कंबोडिया के एक बंदरगाह पर कब्जा प्राप्त करने की खबर प्रसिद्ध हुई थी| इस बंदरगाह का कब्जा करके चीन इसका उपयोग नौसेना का अड्डा बनाने के लिए करेगा, यह जानकारी भी प्रसिद्ध हुई थी| चीन और कंबोडिया के युद्धपोतों के एकसाथ खिंचे गए फोटो भी प्रसिद्ध हुए थे| इसके साथ ही अब सॉलोमन आयलैंड के द्विप पर चीन ने किया कब्जा चीन की रक्षासंबंधी महत्त्वाकांक्षा का समर्थन करनेवाला साबित होता है|

English  मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info