Breaking News

इराक और सिरिया में आयएस के हमलों में ४५ मृत

बगदाद/दमास्कस  गत दो दिनों मेंआयएसके आतंकियों ने इराक और सिरिया में किये हमलों में ४५ लोग मारे गए हैं। उसीके साथ, आतंकियों ने सिरियास्थित दो ईंधन प्रकल्पों को लक्ष्य किया है। इस हमले के बाद इराक की सेना नेआयएसके ख़िलाफ़ मुहिम छेड़ी है। इराक और सिरिया की सरकारें कोरोनावायरस से लड़ रहीं होने का फ़ायदा उठाते हुएआयएसके आतंकियों ने हमलें तीव्र किये हैं, ऐसा दावा किया जाता है।

पिछले कुछ दिनों में इराक और सिरिया मेंआयएसके हमलों में बढ़ोतरी हुई है। रविवार कोआयएसके आतंकियों ने इराक के सलाहुद्दीन प्रांत में किये हमले में दस लोग मारे गए। इराक के ईरानसंलग्नपॉप्युलर मोबिलायझेशन फोर्सेसइस गुट पर यह हमला हुआ था। वहीं, इस हमले के कुछ घंटे पहले इराक के ईंधनसंपन्न जाने जानेवाले किरकूक इलाक़े मेंआयएसके आतंकी ने किये आत्मघाती हमले में दो सुरक्षा जवान मारे गए।

गत दो दिनों सेआयएसके आतंकियों ने सिरिया के होम्स इलाक़े में किये हमलों में सिरियन लष्कर के कम से कम ३२ सैनिक मारे गए। इस हमले में होम्सस्थित दो ईंधन प्रकल्पों का ज़बरदस्त नुकसान हुआ। इस कारण इस इलाके में बिजली की सप्लाई कुछ समय के लिए खंडित हुई थी। इसके अलावा सिरिया की जेल सेआयएसके आतंकियों ने पलायन किया होने की घटनाएँ भी घटित हुईं हैं। इस कारण सिरिया की अस्साद हुक़ूमत की चिंताएँ बढ़ी हैं।

इराक और सिरिया में कोरोनावायरस का फैलाव बड़े पैमाने पर हुआ है। इराक में इस महामारी से ९५ लोगों ने दम तोड़ा होकर, इस देश में कोरोना के २,२१९ मरीज़ हैं। वहीं, सिरिया में इस संक्रमण से तीन लोग मरे होकर, ४४ लोग इस संक्रमण से बाधित हुए हैं। कोरोनावायरस के विरोध में शुरू इस लड़ाई की पृष्ठभूमि पर इराक और सिरिया में संघर्षबंदी लागू की गयी थी। लेकिनआयएसने इस परिस्थिति का फ़ायदा उठाते हुए इराक और सिरिया में पुन: अपना प्रभाव बढ़ाने की शुरुआत की है, ऐसा दिख रहा है।

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info