Breaking News

नायजर लष्कर की कार्रवाई में बोको हराम के ७५ आतंकी ढ़ेर

निआमे – नायजर लष्कर ने की हुई बड़ी कार्रवाई में ‘बोको हराम’ इस आतंकवादी संगठन के ७५ आतंकी ढ़ेर हुए हैं। नायजर और नायजेरिया इन दोनों देशों में यह कार्रवाई की गयी, ऐसी जानकारी नायजर लष्कर ने दी। पिछले हफ़्ते बोको हराम के आतंकियों ने नायजर के लष्करी अड्डे पर हमला किया था। उसके जवाब के रूप में हाथ ली हुई इस मुहिम के तहत यह कार्रवाई की गई, ऐसा बताया जाता है।

नायजर लष्कर ने क्रमानुसार यह कार्रवाई की। पहले चरण में सोमवार को नायजर के ‘दिफा’ शहर के बाहर कोमादौगौ नदी के पास हमला किया गया। इस हमले में २५ आतंकियों को मार दिया गया। इस कार्रवाई में दो जवान ज़ख़्मी हुए होने की जानकारी दी गयी है।

दूसरे चरण में नायजेरिया में बोको हराम का अड्डा होनेवाले ‘लेक चाड’ में हमलें किए गये। इन हमलों में ५० आतंकी मारे गये होने की जानकारी नायजर के रक्षा विभाग ने दी। इस समय हवाई हमलें भी किये गये होकर, बोको हराम का बड़ा शस्त्रभांडार भी नष्ट किया गया, ऐसा बताया गया।

पिछले दशक में स्थापन हुए बोको हराम को ख़त्म किया होने के दावे नायजेरियन सरकार द्वारा किये गए हैं। लेकिन नायजेरिया के पड़ोसी देशों में भी बोको हराम का प्रभाव बढ़ रहा होकर, नायजर में हुई कार्रवाई में से यह बात स्पष्ट हुई है। सन २००९ से ईशान्य (नॉर्थ ईस्ट) नायजेरिया में अपने क़ारनामों की शुरुआत करनेवाले बोको हराम के हिंसाचार में अब तक ३० हज़ार से अधिक लोगों की मृत्यु हुई होकर, २० लाख नागरिकों को विस्थापित होना पड़ा है।

इसी बीच, पिछले कई महीनों में नायजेरिया के वायव्य (नॉर्थ वेस्ट) भाग में विद्रोही गुटों के बीच तीव्र हिंसाचार भड़क उठा होकर, २३ हज़ार नागरिकों पर विस्थापित होने की बारी आयी है। ये अधिकांश विस्थापित नायजर में दाख़िल हुए होने की जानकारी संयुक्त राष्ट्रसंघ की रिपोर्ट में दी गयी। पिछले वर्ष भी तक़रीबन २० हज़ार से भी अधिक नायजेरियन नागरिकों ने नायजर में पनाह ली थी।

English    मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info