हौथी बागियों की वजह से येमन की जनता पर भूखमरी का संकट – संयुक्त राष्ट्रसंघ की ‘वर्ल्ड फूड प्रोग्राम’ का आरोप

वॉशिंगटन – येमन में हौथी बागी अपने ही देश की जनता को भूखमरी से मार रहे है, यह आरोप संयुक्त राष्ट्रसंघ ने किया है। संयुक्त राष्ट्रसंघ ने भेजे जा रहे ‘फूड पैकेटस्’ येमन की ९९ प्रतिशत जनता तक पहुंच ही नही रहे, यह चौकानेवाला दावा राष्ट्रसंघ के ‘वर्ल्ड फूड प्रोग्राम’ (डब्ल्यूएफपी) ने किया है। जरूरतमंद येमन जनता तक यह ‘फूड पैकेटस्’ पहुंचाने के बजाए हौथी बागी इस अन्न की लूट कर रहे है, यह आरोप इस संगठन ने किया है। हौथी बागियों ने अगले दो दिनों में अपनी हरकतें बद नही की तो येमन को सप्लाई हो रही अन्न की सहायता रद्द करने का इशारा ‘डब्ल्यूएफपी’ ने दिया है।

हौथी, अन्न की लूट, वर्ल्ड फूड प्रोग्राम, भूखमरी, पैकेटस् का वितरण, वॉशिंगटन, हौदेदा बंदरगाह

पिछले कुछ दिनों से येमन के हौथी बागियों ने सौदी अरब के हवाई अड्डों पर हवाई एवं ड्रोन हमलें करने की तादाद बढाई है। साथ ही सौदी की ईंधन पाईपलाईन पर हुए हमले की जिम्मेदारी भी हौथी बागियों ने स्वीकारी है। हौथी बागियों के इन हमलों पर सौदी और अरब मित्रदेशों से जोरदार प्रत्युत्तर दिया जा सकता है। यह संभावना ध्यान में रखकर संयुक्त राष्ट्रसंघ के ‘डब्ल्यूएफपी’ के संचालक डेव्हिड बिस्ले ने राष्ट्रसंघ की सुरक्षा समिती के सामने कडवी सच्चाई रखी।

‘डब्ल्यूएफपी’ के जरिए येमन में उतारे गए फूड पैकेटस् वहां की जनता तक पहुंच नही रहे है, यह आरोप डेव्हिड बिस्ले ने किया। ‘सादा’ इस बागियों की प्रभुता होनेवाले क्षेत्र की जनता को अप्रैल महीने में ‘फूड पैकेटस्’ प्राप्त ही नही हुए। राजधानी सना के सात सेंटर्स पर भी यही स्थिति है और ६० प्रतिशत नागरिकों ने ऐसी ही प्रतिक्रिया दर्ज की है, यह जानकारी बिस्ले ने सुरक्षा समिती के सामने रखी। पिछले वर्ष ‘फूड पैकेटस्’ खोने के सबुत भी हाथ लगे थे। इन फूड पैकेटस् का वितरण करने का जिम्मा उठानेवाले हौथी बागी ही इस के लिए जिम्मेदार होने का आरोप बिस्ले ने किया है।

‘डब्ल्यूएफपी’ से फूड पैकेटस् प्राप्त होने के बाद हौथी बागियों को रजिस्ट्रेशन ऍण्ड बायोमेट्रिक पंजीकरण करना जरूरी होता है। लेकिन, हौथी बागियों ने बडे प्लैन के साथ नियमों को चकमा देकर ‘फूड पैकेटस्’ देने में गबन करना जारी रखा है, यह आरोप बिस्ले ने किया। लेकिन, इसके आगे हौथी बागी फूड पैकेटस् वितरण करने में हो रहा गबन बंद नही करते है और राष्ट्रसंघ के नियमों का पालन नही करते है तो इस सप्ताह के अंत से यह अन्न सहायता रद्द की जाएगी, यह इशारा बिस्ले ने दिया है।

येमन में सौदी के नियंत्रण में होनेवाले हिस्से में ‘फूड पैकेटस्’ का ठिक से वितरण होरहा है, यह भी बिस्ले ने कहा है। लेकिन, हौथी बागियों का प्रभाव होनेवाले हिस्से में भूखमरी से भीषण संकट आने की संभावना है, यह चिंता बिस्ले ने व्यक्त की। इससे पहले वर्ष २०१७ में सौदी ने हौदेदा बंदरगाह पर कब्जा करने के बाद संयुक्त राष्ट्रसंघ के जहाजों को प्रवेश देने से इन्कार किया था। हौथी बागियों की मुश्किल करने के लिए सौदी ने फूड पैकेटस् के जहाज रोक रखे थे। उस समय बिस्ले ने सौदी के विरोध में भूमिका रखी थी।

इस दौरान, हौथी बागियों ने फूड पैकेटस् वितरण में गबन करना बंद नही किया तो येमन की जनता पर भूखमरी का संकट आ गिरेगा, यह इशारा ‘डब्ल्यूएफपी’ ने दिया। वही, अन्न प्राप्त करने के लिए नया संघर्ष भी शुरू होगा, यह संभावना भी इस संगठन ने जताई है।

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info