Breaking News

इस्टोनिया ‘साइबर आर्मी’ रशिया को प्रत्युत्तर देगी – इस्टोनियन अधिकारी का दावा

तालिन – साल पहले रशिया ने इस्टोनिया की सरकारी और लश्करी वेबसाईट पर साइबर हमले करके पूरी यंत्रणा को नाकाम कर दिया था। रशिया की तरफ से किए जाने वाले इस तरह के साइबर हमलों को उचित प्रत्युत्तर देने के लिए इस्टोनिया ने साइबर आर्मी बनाई है। अपनी यह साइबर आर्मी जल्द ही रशिया को प्रत्युत्तर देगी, ऐसा दावा इस्टोनिया के साइबर कमांड प्रमुख ने किया है।

साइबर आर्मी, प्रत्युत्तर, एंड्रेस हैर्क, कर्नल, सायबर हमले, इस्टोनिया, द्वितीय विश्वयुद्ध

पूर्व यूरोप का बाल्टिक देश इस्टोनिया यह साइबर हमलों का शिकार बना पहला देश था। सन २००७ में रशियन लश्कर की गुप्तचर यंत्रणा ने इस्टोनिया पर साइबर हमले किए थे। इन साइबर हमलों में इस्टोनिया की सरकारी यंत्रणा पूरी तरह से नाकाम हुई थी। साथ ही बैंकिंग और मीडिया क्षेत्र की भी बड़ी हानि हुई थी। इस्टोनिया ने द्वितीय विश्वयुद्ध की वास्तु राजधानी से अन्यत्र स्थानांतरित करने की वजह से गुस्से में आकर रशिया ने ये सायबर हमले किए यह पता चला था।

साइबर आर्मी, प्रत्युत्तर, एंड्रेस हैर्क, कर्नल, सायबर हमले, इस्टोनिया, द्वितीय विश्वयुद्ध

इन साइबर हमलों के प्रति दुनिया भर से तीव्र प्रतिक्रियाएं आईं थीं। अमरिका और यूरोपीय देशों ने रशिया के इन साइबर हमलों की आलोचना की थी। लेकिन अब दस साल बाद रशिया के इन साइबर हमलों को प्रत्युत्तर देने के लिए अपनी साइबर कमांड तैयार है, ऐसा इस्टोनिया के वरिष्ठ अधिकारी कर्नल एंड्रेस हैर्क ने घोषित किया है। रशिया के साइबर हमलों को नाकाम करने की क्षमता प्राप्त करने का दावा भी हैर्क ने किया है।

English मराठी

 

Click below to express your thoughts and views on this news:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info