Breaking News

शरणार्थियों के खिलाफ मध्य यूरोपीय देशों में हथियारबंद दलों की स्थापना – स्लोवेनिया में राष्ट्राध्यक्ष पद के भूत उम्मीदवार हाथियारबंद के प्रमुख होने का स्थानिक यंत्रणा का दावा

प्राग – जर्मनी के ‘केमनिटझ्’ शहर में शरणार्थिंयो के खिलाफ आंदोलन की वजह से आपातकाल की घोषणा होने के वक्त ही, युरोप के बाकी इलाकों में शरणार्थिंयो के खिलाफ असंतोष बढ रहा है, यह सामने आया है । पूर्व तथा मध्य युरोप का हिस्सा होनेवाले कुछ देशों में शरणार्थिंयो के खिलाफ हाथियारबंद गुट स्थापन किये गये है। स्थानिक खुफिया और रक्षायंत्रणों ने इन गतिविधियों पर तीव्र चिंता जतायी है।

युरोप में सन २०१५ से शरणार्थियों के अवैध झुंड आ रहे है। अब तक करीबन २० लाखों से ज्यादातर शरणार्थी दाखिल हुए है, ऐसा कहा जाता है। इन शरणार्थियों को शामिल करने मसले पर युरोप पूरी तरह असफल हुआ है। शरणार्थियों के वजह से युरोपीय देशों की रक्षा और सामाजिक जम पूरी तरह बिघडा हुआ है। युरोप के कुछ देशों ने शरणार्थिंयो को खुले आम स्वीकारने की भूमिका ली, फिर भी उनको होनेवाला विरोध प्रतिदिन बढते हुए अधिकतर युरोपीय देशों में असंतोष की भावना बढ रही है।

आफ्रिका और एशियाई देशों में से आए शरणार्थी हत्या, लूट और महिलांओ पर अत्याचार जैसे गुनहगारी में शामील होने की कई उदाहरण सामने आये है। इससे युरोपीय देशों की जनता गुस्से में होते हुए पूरा जनमत शरणार्थिंयो के खिलाफ गया है। इसी कारण युरोप में पिछले दो सालों से हुए चुनावों में शरणार्थिंयो को विरोध करनेवाले दक्षिण पंथी विचारधारा और राष्ट्रवादी विचारों का पुरस्कार करनेवाले पक्ष और संगठनाको बडा प्रतिसाद मिल रहा है। कुछ देशों में इन गुठांें ने सत्ता काबिज करने में सफलता पायी है। इस पृष्ठभूमिपर हथियारबंद दलों की हुई स्थापना ध्यान खिचनेंवाली बात साबित होती है।

झेक रिपब्लिक और स्लोव्हेनिया में शरणार्थियों के खिलाफ आक्रामक भूमिका लेनेवाले गुटोेंने हथियारबंद दलों की स्थापना की है और उनके सदस्यों की तादाद पॉंच हजार पर जा पहुँची है। ‘झेक रिपब्लिक’ की अंतर्गत खुफिया एजन्सी ‘बीआयएस’ने हांल ही में इस संदर्भ में एक रिपोर्ट तैयार किया है। इस रिपोर्ट में से कुछ जानकारी स्थानिक माध्यमों में प्रकाशित हुई है। ‘झेक रिपब्लिक’ में ‘नॅशनल होम गार्ड’ नाम के हथियारबंद गुट की स्थापना हुई है। इस गुट के करीबन तीन हजार सदस्य है, ऐसा दावा किया गया है।

जनवरी महिने में झेक रिपब्लिक में हुए चुनावों में दक्षिण पंथी विचारधारों का राष्ट्रवादी दल ऐसी पहचान रखनेवाले ‘नॅशनल डेमोक्रसी’ को ३० हजार से ज्यादा वोट मिले थे। ‘नॅशनल होम गार्ड’ की स्थापना के पिछे इसी दल का हाथ है, ऐसा माना जाता है। ‘नॅशनल होम गार्ड’ के सदस्यों की ट्रेनिंग और संचलन राजधानी प्राग और बाकी शहरों में हुई। साथ ही देशो के बाकी शहरों में शाखा स्थापन होने की जानकारी अंतर्गत खुफिया एजन्सी ने दी है।

‘झेक रिपब्लिक’ के बाद स्लोव्हेनिया में भी ‘स्टॅजर्स्का गार्ड’ नाम की हथियारबंद संगठन स्थापन की गयी है। यह संगठन स्लोव्हेनिया के राष्ट्राध्यक्ष पद के चुनाव के भूतपूर्व उम्मीदवार ‘अँड्रेज सिस्को’ ने स्थापन की है। सिस्को को हालं ही में हुए चुनावों में दो प्रतिशत से ज्यादा वोट मिले थे। ‘स्टॅजर्स्का गार्ड’ में दो हजारों से ज्यादा सदस्यों का समावेश हैे। उनके हथियारबंद दल के ट्रेनिंग के फोटोग्राफ्स सार्वजनिक किये गये है। इस गुट द्वारा देश में परधर्मिय शरणार्थिंयो को निशाना करने के दावे किये गये है।

झेक रिपब्लिक और स्लोव्हेनिया के साथ स्लोव्हाकिया में केंद्र स्थापन करनेवाला ‘नाईट वोल्व्हज्’ यह गुट शरणार्थियों के खिलाफ भूमिका का समर्थन करनेवाला माना जाता है।

English  मराठी

 

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info