Breaking News

रशियन रक्षा बल युद्ध के लिए तैयार – राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन का आश्वासन

मॉस्को: ३ लाख सैनिक, ३६००० टैंक, हथियारबंद गाड़ियाँ, १००० से अधिक लड़ाकू विमान, हेलिकॉप्टर्स, ड्रोन, ८० युद्धपोत और पनडुब्बियां के समावेश वाले ‘वोस्तोक-२०१८’ इस भव्य युद्धाभ्यास की रशिया में शुरुआत हुई है और गुरुवार को राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमीर पुतिन ने इस अभ्यास को भेंट दी। उस समय पुतिन ने रशिया के रक्षा बल युद्ध के लिए पूरी तरह से तैयार हैं, ऐसा आश्वासन दिया है। मातृभूमि रशिया का सार्वभौमत्व, सुरक्षा और हितसंबंधों को सुरक्षित रखने के लिए, सीरिया जैसे देशों को आश्वस्त करने के लिए यह अभ्यास अवश्यक था। इन शब्दों में पुतिन ने ‘वोस्तोक-२०१८’ का समर्थन किया है।

व्लादिमिर पुतिन, ग्वाही, वोस्तोक-२०१८, Vostok, नाटो, युद्धसराव, ww3, रशिया, जपानरशिया के अति पूर्वी इलाके में स्थित साइबेरिया में ‘वोस्तोक-२०१८’ इस युद्धाभ्यास का आयोजन किया गया है। ४० वर्ष पहले सोव्हिएत रशिया का विभाजन होने के बाद से लेकर रशिया पहली बार अपने लष्करी सामर्थ्य का इतने बड़े पैमाने पर सर्वोच्च प्रदर्शन कर रहा है। रशिया ने आयोजित किए इस अभ्यास में चीन और मंगोलिया ने भी सहभाग लिया है। चीन की तरफ से तीन हजार से भी अधिक सैनिक, ९०० से अधिक टैंक और हथियारबंद गाड़ियाँ, २४ हेलिकॉप्टर्स और छह लड़ाकू विमान ‘वोस्तोक-२०१८’ के लिए भेजे गए हैं।

साइबेरिया के साथ साथ सी ऑफ़ जापान, बेरिंग सी, और सी ऑफ़ ओखोत्सक में अभ्यास का आयोजन किया गया है। नाटो, अमरिका और जापान ने इस अभ्यास की आलोचना की है। कुछ विश्लेषकों ने यह अभ्यास मतलब रशिया और चीन की अमरिका के खिलाफ नीति का एक महत्वपूर्ण पड़ाव होने का दावा किया है। लेकिन रशिया ने इन आरोपों का खंडन किया है।

इस अभ्यास के माध्यम से रशिया ने अपने रक्षा सामर्थ्य का प्रदर्शन किया है, इस दावे के साथ रशिया किसी भी लष्करी खतरे का मुकाबला करने के लिए सज्ज है, ऐसा आश्वासन पुतिन ने दिया है। उसी समय रशिया इसके आगे अपने सुरक्षा बलों को प्रगत हथियार और तकनीक की सहायता से मजबूत करने का कार्य जारी रखने वाला है, ऐसी चेतावनी भी दी है।

इसके पहले रशिया ने सन २०१४ में वोस्तोक युद्धाभ्यास का आयोजन किया था। उसके बाद इस साल किया गया ‘झैपड’ युद्धाभ्यास भी रशियन सुरक्षा बलों के इतिहास का बड़े युद्धाभ्यासों में से एक के तौर पर पहचाना जाता है।

English हिंदी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info