Breaking News

रशियन विमान ने की अमरिका के ‘एरिआ-५१’ के साथ हवाई एवं परमाणु अड्डों की गश्त

वॉशिंग्टन/मॉस्को – रशिया के ‘टीयू-१५४एम’ विमान ने अमरिका के नेवाडा प्रांत में बनाए ‘एरिआ-५१’ के साथ ही कैलिफोनिया में बने हवाई एवं परमाणु अड्डों की गश्त करने की जानकारी उजागर हुई है| अमरिकी रक्षा विभाग के प्रवक्ता एरिक पॅहोन इन्होंने यह जानकारी उपलब्ध कराई| ‘ट्रिटी ऑन ओपर स्काईज्’ इस अंतरराष्ट्रीय समझौते के तहेत यह गश्त की गई है, यह भी अमरिका से बताया गया| परमाणु विषय ‘आईएनएफ’ समझौते से पीठे हटने के बाद दोनों देशों के बीच बना तनाव बढ रहा है, इस दौरान रशियन विमानों ने अमरिका के अहम ठिकानों पर की गश्त ध्यान आकर्षित करती है|

अमरिका के ‘द ड्राईव्ह’ इस वेबसाईट ने रशियन विमानों की मुहीम की जानकारी का वृत्त प्रसिद्ध किया है| रशिया के ‘टी-१५४एम’ विमान ने पिछले हफ्ते में अमरिका के रक्षा ठिकानों की गश्त की हा, यह जानकारी इस वृत्त में दर्ज है| उत्तर कैलिफोर्निया में ‘ट्रॅव्हिस एअरफोर्स बेस’ से इस मुहीम की शुरूआत हुई| उसके बाद रशियन विमान ने ‘एडवर्डस् एअर फोर्स बेस’ ‘फोर्ट आयर्विन टे्रनिंग सेंटर’, क्रिच एअरफोर्स बेस’, ‘युक्का फ्लैट न्युक्लिअर टेस्ट रिजन’, ‘टोनोपाह टेस्ट रेंज’, और ‘डगवे प्रुव्हिंग ग्राउंड’ के क्षेत्र के उपर रशियन विमान ने उडान भरी थी, यह जिक्र संबंधी समाचार में किया गया है|

इस मुहीम के दौरान रशियन विमान ने नेवाडा प्रांत में ‘एडवर्डस् एअरफोर्स बेस’ का विवादित हिस्सा ‘एरिआ ५१’ के उपर से भी उडान भरी है, यह जानकारी माध्यमों ने दी है| ‘एरिआ ५१’ यह अमरिकी रक्षा विभाग का ‘गोपनीय एवं सुरक्षित क्षेत्र’ के तौर पर वर्ग किया गया क्षेत्र होने की बात कही जाती है|

वर्ष २०१३ में रक्षा विभाग ने घोषित की जानकारी के नुसार इस क्षेत्र में प्रगत एवं प्रायोगिक विमानों का परीक्षण किया जाता है| इन परीक्षणों की सभी जानकारी ‘गोपनीय’ वर्ग की है एवं यह जानकारी उजागर नही की गई है| कुछ अभ्यासक एवं तज्ञों के दावे के नुसार ‘एरिआ-५१’ में परग्रहवासियों पर संशोधन किया जा रहा है और इस लिए यह क्षेत्र संरक्षित रखा गया है| लेकिन, अमरिकी रक्षा बल ने इस पर किसी भी प्रकार की प्रतिक्रिया दर्ज नही की है|

रशियन विमान ने अपनी गश्त के दौरान फोटो या व्हिडिया बनाया है या नही, इस बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी घोषित नही की गई है| लेकिन, इस मुहिम के पहले अमरिका ने रशिया के विमान की जांच की थी, साथ ही इस मुहिम पर अमरिका नजर रखकर थी, ऐसा रक्षा विभाग के प्रवक्ता ने स्पष्ट किया|

‘ट्रिटी ऑन ओपन स्काईज्’ के नुसार रशिया ने इस वर्ष अमरिकी ठिकानों की गश्त करने की इस वर्ष की यह पहली घटना है| इसके पहले अमरिका ने पिछले महीने में ही रशिया के ठिकानों की गश्त करी थी, ऐसा बताया जा रहा है| नवंबर २०१७ के बाद ‘ट्रिटी ऑन ओपर स्काईज्’ के नुसार एक दुसरे के लष्करी ठिकानों की लगातार के महीनों में गश्त करने का यह पहला अवसर है|

कुछ दिनों पहले अमरिका और रशिया के न्युक्लिअर बॉम्बर्स ने एक ही समय पर यूरोप के हवाई क्षेत्र में युद्धाभ्यास करने की जानकारी प्राप्त हुई थी|

English    मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info