Breaking News

सीरिया-इराक सीमा पर ईरान ने किए हथियारों के भंडारों पर जोरदार हवाई हमलें – ईरान से जुडे हथियारी गुटों के सैनिक ढेर

दमास्कस – सीरिया के पूर्वीय हिस्से केअल बुकमलक्षेत्र में हुए भीषण हवाई हमलों में हथियारों के तीन भंडार राख हुए है| इस हमले में सीरिया के ईरान से जुडे हथियारी गुट के पांच सैनिक मारे जाने का दावा हो रहा है| पर, हमलें की तीव्रता देखे तो इस दौरान काफी जानें गई होगी, यह संभावना व्यक्त हो रही है| इस दौरान, पिछले हफ्ते से सीरिया में ईरान से जुडे हथियारों के भंडारों पर हुआ यह दुसरा हमला है

स्थानिय वृत्तसंस्था ने साझा की हुई जानकारी के अनुसार इराक की सीमा के निकटअल बुकमलक्षेत्र में शनिवार की रात बडे हवाई हमलें हुए| लडाकू विमानों ने यह हवाई हमलें किए थे,यह दावा स्थानिय वृत्तसंस्था ने किया| पर यह लडाकू विमान कौने से देश के थे, यह स्पष्ट नही हो सका है| पर, ईरान केरिव्होल्युशनरी गार्डस्ने बनाए एवं संरक्षित किए हथियारों के भंडारों को लक्ष्य करने के लिए यह हवाई हमलें किए गए थे| इन भंडारों में ईरान से जुडे गुटों के साथ ही रिव्होल्युशनरी गार्डस् कीकुदस् फोर्सेसके लिए हथियारों का बडा भंडार किया गया था, यह भी बताया जा रहा है

  weapons warehouses, airstrikes, pro-Iran groups, Iranian military, Israel, Iran, Quds Forces weapons warehouses, airstrikes, pro-Iran groups, Iranian military, Israel, Iran, Quds Forces

यह भंडार हवाई हमलों में नष्ट होने से ईरान को बडा झटका लगने का दावा स्थानिय माध्यम कर रहे है| इससे पहले सीरिया में हुए हवाई हमलों के लिए इस्रायल को जिम्मेदार कह रहे सीरिया ने इन हमलों की जानकारी या इसपर प्रतिक्रिया देने की बात टाल दी है| सात दिनों में सीरियाइराक की सीमा के निकट ईरान के भंडारों पर हुआ यह दुसरा हवाई हमला है| इससे पहले बुधवार के दिनअल बुकमलमें अन्य एक हथियारों के भंडार पर हवाई हमला किया गया था| इस हमलों की खबर भी स्थानिय माध्यमों ने साझा की थी|

सीरियाइराक की सीमा के निकटअल बुकमलक्षेत्र ईरान के लिए काफी अहम होने की बात समझी जा रही है| ईरान को इराक के जरिए भूमध्य समुद्र से जुडने के लिए बनाया महामार्ग अल बुकमल से ही गुजरता है| व्यापारी वाहतुक के साथ खाडी क्षेत्र के देशों में अपने हथियारी बागियों की यातायात करने के लिए ईरान इस कॉरिडोर का निर्माण कर रहा है, यह आलोचना इससे पहले भी हुई थी| इसी क्षेत्र में ईरान ने रिव्होल्युशनरी गार्डस्, अल कुदस् एवं अन्य हथियारी गुटों के लिए हथियारों के भंडार बनाए है| इसके अलावा इसी क्षेत्र में ईरान का लष्करी अड्डा होने की बात भी कुछ हफ्तें पहले सामने आयी थी|

इस दौरान, ईरान ने भी अपने लष्करी अड्डे एवं हथियारों के भंडारों पर हुए हमलों को जवाब देने के तौर पर इस्रायल के गोलान क्षेत्र पर राकेट हमलें किए थे| पर, इन हमलों के बाद इस्रायली सेना ने सीरिया में ईरान के लष्करी एवं ईरान से जुडे गुटों को जोरदार प्रत्युत्तर दिया था| ऐसी स्थिति में अल बुकमल अड्डे पर रका हथियारों के भंडार पर हुए हवाई हमलें ईरान के लिए नई चेतावनी होने का दावा हो रहा है

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info