Breaking News

कोरोना व्हायरस की जानकारी चीन ने छुपाने की बडी किमत चुकाने के लिए विश्‍व मजबूर है – अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प

वॉशिंग्टन  – चीन ने कोरोना व्हायरस की जानकारी छुपा कर रखें बिना समय पर सार्वजनिक की होती तो इस विषाणु का प्रसार चीन के एक ही हिस्से तक सीमित हा होता। पर, चीन ने ऐसा नही किया और इसकी बडी किमत चुकाने के लिए पुरा विश्‍व मजबूर हुआ है, ऐसे कडे शब्दों में अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन को जोरदार फटकार लगाई है। अब भी चीन इस महामारी के बारे में दे रहे जानकारी में सच्चाई होगी, यह उम्मीद है, यह तमाचा भी अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष ने लगाया है। तभी संयुक्त राष्ट्रसंघ में नियुक्त अमरिका की भूतपूर्व राजदूत निक्की हॅले ने राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प के बयान का समर्थन करके चीन की वजह से भी पुरा विश्‍व संकट से घिरा है, यह आरोप रखा।

कोरोना व्हायरस या ‘कोविड-19’ ऐसा जिक्र करने केबजाए अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष इस विषाणु को ‘चायनिज व्हायरस’ कह रहे है। गुरूवार के दिन माध्यमों को संबोधित करते समय अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष ने इस महामारी के फैलाव के लिए चीन ही जिम्मेदार है, यह आरोप सीधे तौर पर रखा। चीन ने समय पर इस महामारी की जानकारी सार्वजनिक की होती तो यह महामारी चीन के किसी हिस्से तक ही सीमित रही होती और इसका फैलाव दुनियाभर में नही होता। पर, चीन की कम्युनिस्ट हुकूमत ने यह जानकारी छुपाने का निर्णय किया और पुरा विश्‍व इसकी बडी किमत चुका रहा है। विश्‍व अब महाभयंकर चीनी व्हायरस के चपेट में फंसा है, यह भी ट्रम्प ने कहा।

‘यह महामारी फैलेगी, यह चिंता हमें सता रही थी। इसी कारण हमनें तुरंत ही चीन के नागरिकों को अमरिका में प्रवेश देने पर प्रतिबंध लगाए थे। यह निर्णय करने पर अमरिकी माध्यमों ने हमपर वंशद्वेष का आरोप रखा था’, यह याद भी अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष ने माध्यमों के प्रतिनिधियों को दिलाई। ट्रम्प ने लगाए इन आरोपों के बाद संयुक्त राष्ट्र में अमरिकी राजदूत रही निक्की हॅले ने भी चीन फटकार लगाकर कटघरें में खडा किया। फिलहाल चीन कोरोना व्हायरस क मुकाबला कैसा करना है, इसका नमुना विश्‍व के सामने रखने की कोशिश कर रहा है। पर, सच्चाई इस महामारी का विश्‍वभर में हुआ फैलाव चीन के कारण ही हुआ है, यह हम भूल नही सकते, यह भी हॅले ने कहा।

राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने किए आरोपों का समर्थन करते समय हॅले ने चीन के विरोध में कई आरोप किए। चीन ने इस विषाणु की जानकारी दुनिया के सामने रखी होती तो यह महामारी 95 प्रतिशत तक रोकना मुमकीन होता, इस महामारी का फैलाव हुआ ही नही होता, यह दावा निक्की हॅले ने किया। इस दौरान अमरिका में इस महामारी के कारण आपात्काल जारी किया गया है और राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने अब ‘डिफेन्स प्रॉडक्शन एक्ट’ घोषित करें यह मांग अमरिकी संसद की सभापति नैन्सी पेलोसी ने की है।

अमरिका में मरीजों पर इलाज करनेवालों को जरूरी मात्रा में वैद्यकीय सामान प्राप्त नही हो रहा है। इसकी किल्लत महसूस हो रही है और इस वजह से इस महामारी का सामना करते समय काफी बडी समस्या सामने आ रही है। इस पर संज्ञान लेकर इन सामान का उत्पाद बढाने के लिए राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प इस कानून का प्रयोग करें, यह बयान पेलोसी ने किया है।

English    मराठी    

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info