अफ़गानिस्तान में अमरीका की हवाई मुहिम शुरू हुई है – अमरिकी रक्षामंत्री का दावा

वॉशिंग्टन – अमरीका अपनी सेना हटाने के बावजूद अफ़गानिस्तान का नियंत्रण छोड़ेगी नहीं, ऐसा वादा राष्ट्राध्यक्ष बायडेन ने किया था। इसकी पुष्टी करनेवाली जानकारी अमरीका के रक्षामंत्री लॉईड ऑस्टिन ने साझा की है। सिनेट की ‘आर्म्ड सर्विसेस कमिटी’ के सामने बोलते समय रक्षामंत्री ऑस्टिन ने अफ़गानिस्तान में अमरीका की हवाई मुहिम शुरू होने की बात स्पष्ट की। इसके लिए खाड़ी क्षेत्र के देशों में स्थित अमरिकी अड्डों पर तैनात विमानों का इस्तेमाल किया जा रहा है, ऐसा ऑस्टिन ने कहा। अमरीका पर हमले करने की साज़िश कर रहे आतंकियों पर पहले हमले किए जाएँगे, यह भरोसा रक्षामंत्री ऑस्टिन ने अपने बयान में दिया।

हवाई मोहीम, हवाई मुहिम

अफ़गानिस्तान की राजधानी काबुल या अन्य अहम शहरों की दिशा में आगे बढ़ रही तालिबान पर हवाई हमले किए जाएँगे, ऐसी खबर अमरिकी अखबार ने प्रसिद्ध की थी। इसके लिए राष्ट्राध्यक्ष बायडेन से अनुमति प्राप्त की जाएगी, ऐसा अमरिकी सेना अफसरों ने इस अखबार से साझा किया थी। तालिबान पर यह हमले करने के लिए खाड़ी क्षेत्र के देशों में मौजूद अमरिकी हवाई अड्डों पर तैनात विमानों का इस्तेमाल किया जाएगा, ऐसा इस अधिकारी का कहना था।

आर्म्ड सर्विसेस कमिटी के सामने हुई सुनवाई के दौरान ऑस्टिन से इस खबर को लेकर सवाल किया गया। रक्षामंत्री ऑस्टिन सीधे इस खबर की पुष्टी करने से दूर रहे। लेकिन, अफ़गानिस्तान में मौजूद अमरीका की ‘इंटेलिजन्स, सर्व्हिलन्स ऐण्ड रिकॉनिसन्स – आयएसआर’ हवाई मुहिम शुरू होने की बात ऑस्टिन ने स्पष्ट की।

अमरीका ने अफ़गानिस्तान में तैनात अपने सैनिकों को हटाना शुरू किया है, उसी समय इस देश में हवाई मुहिम भी शुरू की है। खाड़ी क्षेत्र के देशों से यह ‘आयएसआर’ मु्हिम चलाई जा रही है’, यह जानकारी ऑस्टिन ने प्रदान की। साथ ही खाड़ी क्षेत्र से अफ़गानिस्तान, इस लंबी दूरी की हवाई मुहिम का अंतर कम करने की कोशिश जारी है। इसके लिए अफ़गानिस्तान के पड़ोसी देशों में मौजूद अड्डों का इस्तेमाल करने के लिए कदम उठाए जा रहे है, ऐसा रक्षामंत्री ऑस्टिन ने कहा।

अफ़गानिस्तान के पड़ोस में स्थित पाकिस्तान में क्या अमरीका को अड्डा मिला है? क्या इस अड्डे का अमरीका इस्तेमाल कर रही है? इससे संबंधित जानकारी देने से अमरिकी रक्षामंत्री दूर रहे। पहले के दिनों में पेंटॅगॉन के अधिकारियों ने पाकिस्तान के अड्डों की जानकारी सार्वजनिक करने के बाद पाकिस्तान की सरकार पर दबाव बढ़ा था। फिर से ऐसा ना हो, इसके लिए रक्षामंत्री ऑस्टिन सावधानी बरतते हुए दिख रहे हैं।

English    मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info