Breaking News

इस्रायल के विनाश के लिए सीरिया में ‘इंटरनॅशनल इस्लामिक आर्मी’ तैयार – ईरान के वरिष्ठ सेना अधिकारी की घोषणा

तेहरान – सीरिया के गोलान सीमारेखा के इलाके में ‘इस्लामी आर्मी’ इस्रायल के विनाश के लिए तैयार है जो सिर्फ एक आदेश की प्रतिक्षा कर रहे है, ऐसी घोषणा ईरान के रिव्होल्युशनरी गार्ड्स के उप-प्रमुख जनरल हुसेन सलामी ने की। साथही लेबेनॉन के हिजबुल्लाह ने इस्रायल की ओर एक लाख प्रक्षेपास्त्र रोखे हुए है, ऐसा भी जनरल सलामी ने घोषित किया। उन्होंने की इन घोषणाओं के कारण इस्रायल के खिलाफ हो चुकी तैयारी की जानकारी दुनिया के सामने एलान करने से आने वाले समय में इसके भीषण प्रतिप्रभाव दिखाई देने की संभावना है।

‘इंटरनॅशनल इस्लामिक आर्मी’, तैयार, जनरल सलामी, हिजबुल्लाह, विनाश, इस्रायल, सीरिया, रशिया

ईरान में जून के महीने में ‘कुद्स डे’ का कार्यक्रम संपन्न हुआ। जनरल सलामी ने इस समय बोलते हुए अत्यंत उग्र और महत्त्वपूर्ण घोषणाए की। ‘अतीत में देखा नहीं होगा, इतना भीषण खतरा अब की बार इस्रायल के सामने खड़ा है’, ऐसा कहते हुए जनरल सलामी ने इस्रायल के विनाश की सारी तैयारी होने का दावा किया। सीरिया में ‘इंटरनॅशनल इस्लामिक आर्मी’ यानी ‘अंतर्रराष्ट्रीय इस्लामी आर्मी’ की स्थापना हो चुकी है। इस सेना की चीख सीरिया के गोलान सीमारेखा पर गुँज रही है। जनरल सलामी ने किया है कि, इस्रायल के विनाश के लिए ये अंतर्रराष्ट्रीय इस्लामी सेना पूरी तरह से तैयार है जो सिर्फ एक आदेश की प्रतिक्षा कर रही है।’

इस्रायल की हुकूमत हमेशा के लिए ढेर करने का समय आ चुका है’, ऐसा कहते हुए सलामी ने सभी का भला इसी में है, ऐस कहा। जनरल सलामी ने आलोचना करते हुए, इस्रायल की नास्तिक हुकूमत से पुरी दुनिया को खतरा है, ऐसा कहा। साथही ईरान के पूर्व सर्वोच्च धर्मगुरु आयातुल्लाह खोमेनी ने कई वर्ष पहले ही इस्रायल का विनाश करना क्यू आवश्यक है, यह दुनिया को समझाने की कोशिश की थी। तभी से इस्रायल की हुकूमत ने ईरान का खौफ लिया है, ऐसे उग्र बोल जनरल सलामी ने कहे।

दौरान, सीरियन सेना और रशिया द्वारा सीरिया के गोलान सीमा के पास भारी हवाई हमले शुरू है। इन हवाई हमलों के निशाने पर सीरियन विद्रोहियों के ठिकाने होने का कहा जाता है। लेकिन इस्रायल ने अपने गोलान सीमारेखा के करीब सीरियन सेना की गतिविधियां स्वीकारी नहीं जाएगी, ऐसी कएी चेतावनी दी थी। साथही गोलान सीमारेखा पर इस्रायल ने अपनी सैनिकी गतिविधियां शुरू करते हुए सीरिया अवर रशिया को संदेस दिया था। साथही इस क्षेत्र में ईरान समर्थक हिजबुल्लाह की गतिविधियां शुरू होने के बारे में इस्रायल ने फटकारा था।

इस पृष्ठभूमी पर जनरल सलामी द्वारा किए हुए विधानों के बारे में जानकारी प्रकाशित की है। मुख्यत: से अंतर्रराष्ट्रीय इस्लामी सेना के बारे में जनरल सलामी जैसे वरिष्ठ सेना अधिकारी ने की घोषणा सभी जानकारों का ध्यान खिचने वाली है। इसके प्रतिप्रभाव जल्द ही सामने आने की निश्‍चित संभावना दिखाई दे रही है।

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info