Breaking News

पॅलेस्टिनी राष्ट्राध्यक्ष की गलती की कीमत इस्राइल को चुकानी पड़ेगी – हमास की इस्राइल और पॅलेस्टिनी राष्ट्राध्यक्ष अब्बास को चेतावनी

गाझा – पॅलेस्टिनियों के दो राजनीतिक गुटों में सत्ता संघर्ष तीव्र हुआ है और गाझापट्टी के हमास ने इस्राइल को धमकाया है। वेस्ट बैंक के पैलेस्टिनी राष्ट्राध्यक्ष महमूद अब्बास ने गाझापट्टी पर दबाव डालने की कोशिश की तो इस्राइल को उसकी कीमत चुकानी पड़ेगी, ऐसी हमास ने चेतावनी दी है। उसीके साथ ही गाझापट्टी की समस्या के पीछे अब्बास प्रशासन होने का आरोप भी हमास ने किया है।

इजिप्त की मध्यस्थता से गाझा के हमास और इस्राइल के बीच संघर्षबंदी लागू हुई है और इस्राइल ने गाझा की सीमारेखा को खुली की है। उसीके साथ ही इस्राइल से गाझापट्टी में मानवतावादी सहायता लेकर ट्रक दाखिल हुए हैं। इस्राइल ने गाझा पर लगाए इन प्रतिबंधों को निकालने का दावा करके हमास का नेता इस्माइल हनिया ने इस निर्णय पर समाधान व्यक्त किया था। लेकिन गाझा पर प्रतिबन्ध शिथिल किए हैं और उन्हें पूरी तरह से हटाया नहीं गया है, इस बात को इस्राइल ने स्पष्ट किया है। साथ ही हथियारों की तस्करी रोकने के लिए गाझापट्टी पर प्रतिबन्ध कायम रहेंगे, ऐसी चेतावनी भी इस्राइल ने दी थी।

पॅलेस्टिनी राष्ट्राध्यक्ष, गलती, महमूद अब्बास, हमास, इस्राइल, प्रतिबन्ध, Gaza, ww3, इजिप्त

गाझा पर प्रतिबन्ध कायम रखने के इस्राइल के इस निर्णय की आलोचना करके हमास ने चेतावनी दी है। पिछले दस सालों से इस्राइल ने गाझापट्टी पर लगाए इन प्रतिबंधों के लिए वेस्ट बैंक के फताह के प्रमुख महमूद अब्बास जिम्मेदार होने का आरोप हमास ने किया है। ‘अब्बास ने गाझापट्टी पर लगाए प्रतिबन्ध जारी रहे अथवा बढाए, तो इस्राइल को उसके लिए जिम्मेदार ठहराकर इस्राइल से हम उसकी कीमत चुकवाएंगे’, ऐसी हमास ने धमकी दी है। इसके पहले भी हमास ने गाझा के पैलेस्टिनियों पर आए संकट के लिए अब्बास को ही जिम्मेदार ठहराया था।

पैलेस्टाइन के गाझापट्टी और वेस्ट बैंक इन दो इलाकों पर पैलेस्टिनी जनता ने चुनी सरकर होनी चाहिए, ऐसी माँग अरब देश कर रहे हैं। इसके लिए गाझा का हमास और वेस्ट बैंक का फताह इन दो विरोधी पैलेस्टिनी गुटों में एकजुट हो, इसलिए इजिप्त की कोशिश शुरू है। लेकिन पैलेस्टाइन के यह दोनों गुट एक होने के लिए तैयार नहीं हैं। अमरिका, पश्चिमी और अरब देशों ने मान्यता दिए वेस्ट बैंक के अध्यक्ष अब्बास के ‘पैलेस्टिनीयन अथॉरिटी’ (पीए) ने गाझापट्टी पर भी हक़ जताना शुरू किया है।

‘’हमास गाझापट्टी पर हक़ छोड़कर अपने ‘पीए’ के सरकार के नेतृत्व को मान्य करे’’, ऐसी माँग अब्बास ने पिछले हफ्ते में ही की थी। उसीके साथ ही हमास गाझा के सभी अधिकार तुरंत छोड़ दे, ऐसा भी अब्बास ने स्पष्ट किया था। लेकिन हमास ‘पीए’ में शामिल होने के लिए राजी नहीं है और उल्टा अब्बास के प्रशासन वाले वेस्ट बैंक में भी अपने समर्थक होने का दावा कर रहा है। इस वजह से पैलेस्टाइन के दोनों गुटों में गाझा और वेस्ट बैंक पर नियंत्रण पाने के लिए सत्ता संघर्ष भड़का है।

उसमें ‘पीए’ के राष्ट्राध्यक्ष अब्बास ने इस्राइल की ओर गाझापट्टी पर आर्थिक और राजनीतिक दबाव कायम रखने की माँग करने का आरोप हमास कर रहा है। इस्राइल गाझापट्टी के सीमारेखा की समस्या न सुलझाए, ऐसी चेतावनी पैलेस्टिनी राष्ट्राध्यक्ष अब्बास ने कुछ हफ़्तों पहले दी थी। इस वजह से पैलेस्टाइन की सत्ता के लिए हमास और फताह के बीच सत्ता संघर्ष तीव्र बन गया है।

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info