Breaking News

तुर्की द्वारा अमरीकी पास्टर बु्रन्सन की रिहाई-अमरीका और तुर्की में तनाव कम होने के संकेत

वॉशिंग्टन/अंकारा – तुर्की ने बंदी बनाए ख्रिस्ती धर्मोपदेशक पास्टर ‘अँड्य्रू ब्रुन्सन’ को रिहा किया है। उनकी रिहाई के लि अमरीका से तुर्की पर दबाव डाला जा रहा था। इसलि अमरीका ने तुर्की पर कठोर आर्थिक प्रतिबंध भी लगाए थे। पास्टर ब्रुन्सन की रिहाई का अमरीकी राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने स्वागत किया। रिहाई के आदेश मिलने के बाद पास्टर ब्रुन्सन अमरीका के लिए रवाना हो चुक है। उनकी रिहाई से काफी तनाव के नीचे गुजर रहे तुर्की की अर्थव्यवस्था की भी रिहाई होगी, ऐसा दावा कुछ विशेषज्ञों ने किया है। दौरान, तुर्की के कब्जे वाले अन्य अमरीकी नागरीकों की भी रिहाई की जाए, ऐसी मॉंग अमरीका के विदेश मंत्री ने की है।

दो साल पहले पास्टर ब्रुन्सन को तुर्की ने हिरासत में लिया था। तुर्की में राष्ट्राध्यक्ष एर्दोगन की सरकार के खिलाफ हुए विद्रोह की साजिश में ब्रुन्सन सामिल होने का आरोप रखा गया था। विद्रोहियों को साथ देने के लिए ब्रुन्सन यहा आए थे, ऐसा आरोप तुर्की की एजन्सीया कर रही थी। लेकिन ये आरोप बिना तथ्यों पर हो रहे है, ऐसा कहते हुए अमरीका ने ब्रुन्सन के रिहाई की मॉंग की थी। तुर्की ने ये मॉंग कबुल नहीं की तो कठोर प्रतिबंधों का सामना करना होगा, ऐसा अमरीका ने फटकारा था। तुर्की ने इस चेतावनी को ठुकराने के बाद अमरीका ने प्रतिबंध लगाए थे जिससे तुर्की की अर्थव्यवस्था पर दबाव काफी हद तक बढाया था।

इससे पास्टर ब्रुन्सने ये अमरीका और तुर्की के बीच का विवाद का केंद्र बन गए थे। इन परीस्थितीयों में शनिवार तुर्की का कोर्ट पास्टर ब्रुन्सन के बारे में कौनसा फैसला सुनाता है, इस पर तुर्की समेत सभी देशों का ध्यान लगा था। कुछ आखाती समाचार एजन्सीयों ने दी जानकारी के अनुसार ब्रुन्सन को दोषी ठहराते हुए कोर्ट ने तीन से अधिक सालों की सजा सुनाई। लेकिन इस फैसले के दौरान उनके अच्छे बर्ताव को देखते हुए उनकी रिहाई के आदेश दिए गए। इस फैसले को बडा राजनीतिक महत्त्व है। पास्टर ब्रुन्सन की रिहाई से तुर्की की भी रिहाई हो गई ऐसा दावा इस देश के विशेषज्ञों ने किया है।

आने वाले समय में अमरीक और तुर्की के संबंध अच्छे होंगे, ऐसा कहते हुए विशेषज्ञ बु्रन्सन की रिहाई को फार बडा महत्त्व दिया है। इससे सीरिया की समस्या को छुडाने के लिए अमरीका और तुर्की एकसाथ काम करेंगे, ऐसा भरोसा जताया जाता है। इससे अहम बात मतलब तुर्की के चलन में बडी मात्रा में हुई गिरावट अब थमेगी, ऐसा भरोसा इस देश की जनता जता रही है। अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने पास्टर ब्रुन्सन की रिहाई का स्वागत करते हुए जल्दही वे ‘व्हाईट हाऊस’ को भेट देंगे, ऐसा कहा है।

अमरीका के विदेश मंत्री माईक पॉम्पिओ ने पास्टर ब्रुन्सन की रिहाई का स्वागत करते हुए तुर्की के सामने नई मॉंग रखी है। तुर्की अपने कैद में रखे हुए अमरीकी नागरीकों को भी रिहा करे, ऐसा पॉम्पिओ ने कहा है। राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प और अमरीका का विदेश मंत्रालय अपने नागरीक की रिहाई के लिए इस तरह से कोशिश करते रहेंगे, ऐसा संदेश इस घटना से सारी दुनिया को मिला, ऐसा दावा विदेश मं पॉम्पिओ ने किया है।

दौरान, अमरीका और तुर्की में तनाव कम होने से इन देशों में फिरसे सहयोग प्रस्थापित होगा तो सीरिया समेत खाडी के समीकरण फिर एक बार बदल सकते है। इसलिए मिडिया और विशेषज्ञ पास्टर ब्रुन्सन की रिहाई की ओर गंभीरता से देख रहे है।

English मराठी

 

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info