Breaking News

भारतीय रक्षा बलों ने की पाकिस्तान की पोलखोल

नई दिल्ली – दो भारतीय लडाकू विमानों को मार गिराने में पाकिस्तानी एअर फोर्स के बदाद्दूरों को बडी सफलता मिली है, ऐसी डिंक पाकिस्तान ने बुधवार के दिन की थी। भारत के लडाकू विमान गिराकर अपने विमान चालकों ने इस देश की तौहीन की है, यह दावे पाकिस्तान के माध्यम कर रहे थे। पाकिस्तान की इस खुशी की हवा गुरूवार के दिन सामने आए सबुतों ने निकाली है।

भारत के ‘लडाकू विमान’ गिराए गए, लेकिन पाकिस्तान का कुछ भी नुकसान नही हुआ। इस हमले के लिए ‘एफ-१६’ विमानों का इस्तेमाल ही नही किया गया। इसी लिए ‘एफ-१६’ गिराने का भारतीय वायु सेना का दावा झुठा साबित होता है, ऐसा पाकिस्तान से कहा जा रहा था। साथ ही ‘बालाकोट’ में ‘जैश’ का ठिकाना ही नही था, वहां पर भारतीय वायु सेना ने किए हमले में सिर्फ कुछ पेडों का नुकसान हुआ, ऐसा भी पाकिस्तान कह रहा था। लेकिन, भारतीय समाचार चैनलों ने एवं उसके बाद रक्षा बलों ने पाकिस्तान के इस झुठ की पोल खोल करनेवाले सबुत सामने रख दिए।

वायु सेना के एअर व्हाईस मार्शल आर.जी.के.कपूर, लष्कर के मेजर जनरल सुरेंद्रसिंग महल?और नौैसेना के रिअर एडमिरल दलबिरसिंग गुजराल इन्होंने शाम सात बजे नई दिल्ली में वार्ता परिषद को संबोधित किया। इस वार्ता परिषद में पाकिस्तान की पोल खोल करने की जानकारी दी गई। पाकिस्तान के कब्जे के कश्मीर में भारत के ‘मिग-२१ बायसन’ ने निशाना बनाकर ‘एफ-१६’ विमान गिराने का फोटो प्रसिद्ध हुआ है। इस गिर पडे विमान की ओर पाकिस्तान के लष्करी अधिकारी निराश होकर देख रहे है, ऐसा इस फोटो में स्पष्ट दिख रहा है।

साथ ही ‘बालाकोट’ में ‘जैश’ का ठिकाना है और वहा प्रशिक्षण दिया जा रहा था, इसके अलावा वहां पर ३०० से अधिक लोग मौजूद थे, यह सिद्ध करनेवाले व्हिडिओज् भी प्रसिद्ध हुए है। यह प्रशिक्षण केंद्र युसूफ अजर चला रहा था और वह कंदहार विमान अपहरण मामले का सूत्रधार था, यह सब नए से सामने आ रहा है। ‘जैश’ ने चलाए जा रहे मदरसे को देखरेख करनेवाले ने किए एक फोन कॉल पर यह जानकारी दी। इस कॉल की रिकार्डिंग भारती समाचार चैनलों ने प्रसारित की है।

ऐसी जानकारी छुपाकर भारत के विरोध में प्रचार युद्ध करनेवाले पाकिस्तान ने अपनी विश्‍वासार्हता पूरी तरह से गंवाई है। भारत पर हांवी होने की कोशिश में पाकिस्तान के माध्यम एवं पत्रकार अपनी छवि गंवा बैठे है। भारतीय रक्षा बलों के अधिकारियों ने पाकिस्तान की पोल खोल करते समय इस देश से दिए जा रहे शांति प्रस्ताव का मखौटा फांड के रख दिया। एक ओर भारत को शांति की सलाह दे रहा पाकिस्तान दुसरी ओर जम्मू-कश्मीर की नियंत्रण रेखापर गोलाबारी करके तोंपों के साथ हमला कर रहा है।

पिछले दो दिनों में पाकिस्तान ने करीबन ३५ बार संघर्षबंदी का उल्लंघन किया है, ऐसी जानकारी मेजर जनरल सुरेंद्रसिंग महल इन्होंने दी। भारतीय लष्कर इन हमलों को सटीक जवाब दे रहा है। साथ भी भारतीय लष्कर ने नियंत्रण रेखा?और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हाय अलर्ट जारी किया है और हम पाकिस्तान की किसी भी आक्रामकता का सामना करने के लिए तैयार है, ऐसी चेतावनी भी मेजर जनरल महल इन्होंने दी है।

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info