Breaking News

पैलेस्टिन को राष्ट्र के तौर पर मंजुरी नही दी तो संख्या के बल पर पैलेस्टिनी इस्रायल को नष्ट करेंगे – पैलेस्टिनी प्रधानमंत्री की चेतावनी

रामल्ला – ‘वेस्ट बैंक और गाजा की पैलेस्टिनी नागरिकों की संख्या इस्रायली नागरिकों से भी अधिक हुई है| ऐसे में यदि अब पैलेस्टिन को राष्ट्र के तौर पर मंजुरी नही दी गई तो इसके गंभीर परिणाम इस्रायल को भुगतने होंगे| ज्यू राष्ट्र के तौर पर प्राप्त किया अस्तित्व इस्रायल खो बैठेगा’, यह धमकी पैलेस्टिन के प्रधानमंत्री मोहम्मद शतायेह ने दी है| साथ ही इस्रायल-पैलेस्टिन विवाद का हल निकालने के लिए अमरिका ने रखा प्रस्ताव ठुकराकर पैलेस्टिनी प्रधानमंत्री ने इस विषय पर कडी आलोचना की है|

पैलेस्टिनी प्रधानमंत्री, चेतावनी, मोहम्मद शतायेह, इस्रायल-पैलेस्टिन विवाद, समर्थन देने का निवेदन, पैलेस्टिन, इस्रायल, अमरिकावेस्ट बैंक के पैलेस्टिन के राष्ट्राध्यक्ष महमूद अब्बास ने इस्रायल के साथ किए सभी समझौतों से पीछे हटने का ऐलान किया है| पैलेस्टिनी प्रशासन ने इस पर अमल शुरू किया है और स्वतंत्र पैलेस्टिन के लिए अरब-खाडी एवं दुनिया में सभी मित्रदेशों का सहयोग प्राप्त करने के लिए पैलेस्टिनी नेताओं ने कोशिश शुरू की है| इसी के एक हिस्से के तौर पर प्रधानमंत्री शतायेह ने जॉर्डन की यात्रा करके स्वतंत्र पैलेस्टिन के लिए समर्थन देने का निवेदन किया| इस दौरान प्रधानमंत्री शतायेह ने इस्रायल को धमकाया है|

‘वर्ष १९४८ के बाद पहली बार जनसंख्या के बल पर पैलेस्टिन इस्रायल पर हावी हुआ है| पैलेस्टिनी नागरिकों के लिए यह बडी जीत है और जॉर्डन की नदी से भूमध्य समुद्र तक का इलाका ६८ लाख पैलेस्टिनी नागरिकों से भरा पडा  है| इनमें से ३० लाख पैलेस्टिनी वेस्ट बैंक में, २० लाख गाजा में और १८ लाख पैलेस्टिनी इस्रायल में फैले है| ऐसे में इस्रायल अब चारों दिशा से पैलेस्टिनियों से घिर चुका है| इस तुलना में इस्रायल की जनसंख्या ६६ लाख है और पैलेस्टिनियों से दो लाख से कम है’, इस स्थिति का एहसास शतायेह ने दिलाया है|

पैलेस्टिनी प्रधानमंत्री, चेतावनी, मोहम्मद शतायेह, इस्रायल-पैलेस्टिन विवाद, समर्थन देने का निवेदन, पैलेस्टिन, इस्रायल, अमरिकापैलेस्टिनियों की जनसंख्या में हुई इस बढोतरी का दाखिला देकर प्रधानमंत्री शतायेह ने इस्रायल को चेतावनी दी है| ‘पैलेस्टिन को राष्ट्र के तौर पर इस्रायल मंजुरी दे, नही तो पैलेस्टिनियों की बढती संख्या इस्रायल को नष्ट करेगी, यह संख्याबल इस्रायल को ज्यू राष्ट्र या जनतंत्र का समर्थक देश रहने नही देगा| इस्रायल को भी वर्णद्वेषी हुकूमत का सामना करना होगा और इस्रायल अपनी शांति खो बैठेगा’, यह धमकी पैलेस्टिन के प्रधानमंत्री ने दी है|

अगले कुछ वर्षों में पैलेस्टिनी नागरिकों की जनसंख्या बढेगी और ऐसे में इस्रायल सही समय पर निर्णय करें, ऐसा इशारा प्रधानमंत्री शतायेह ने दिया है| साथ ही अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने शांतिचर्चा के लिए नियुक्त किए हुए विशेष दूत जेसन ग्रिनब्लाट पर भी शतायेह ने आलोचना की है| ‘पूर्व जेरूसलम’ पर पैलेस्टिनियों का अधिकार ठुकराकर ग्रिनब्लाट ने इस्रायल के समर्थन में शांतिप्रस्ताव रखा है, यह आरोप भी शतायेह ने किया|

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info