Breaking News

गाजा और लेबनान में आतंकियों के ठिकानों पर इस्रायल के हमलें

जेरूसलम – रविवार रात आतंकियों ने गाजापट्टी से इस्रायल पर तीन रॉकेट हमलें किए| इसके बाद क्रोधित हुए इस्रायली सेनाने गाजापट्टी में हमास के ठिकानों को लक्ष्य किया| इसके बाद कुछ ही मिनिटों में इस्रायल के लडाकू विमानों ने लेबनान में ‘पीएफएलपी’ इस पैलेस्टिनी आतंकी संगठन के अड्डों पर हवाई हमलें किए| एक रात में इस्रायल ने गाजा और लेबनान में हमलें करके हम एक ही समय पर दोनों मोर्चों पर युद्ध के लिए तैयार होने का संदेशा दिया है|

इस्रायली सेना ने प्रसिद्ध की जानकारी के नुसार रविवार देर रात गाजापट्टी से दक्षिण इस्रायल के स्देरॉत शहर के दिशा में तीन रॉकेट हमलें किए गए| इस्रायली सेना ने सीमा पर पहले ही तैनात की हुई ‘आयर्न डोम’ यंत्रणा ने इनमें दो रॉकेट हवा में ही नष्ट किए| अन्य एक रॉकेट ‘रूट ३४’ इस महामार्ग पर गिरा| गाजा से रॉकेट का हमला होने के बाद स्देरॉत और नजदिकी शहरों में सायरन बजने से इस्रायली जनता ने समय पर सुरक्षित सुरंग में पनाह ली| इस वजह से जीवित हानी नही हो सकी|

इसके बाद इस्रायली सेना ने अगले कुछ ही मिनिटों में गाजापट्टी में हमलें किए| इस्रायल के लडाकू विमान और लष्कर ने संयुक्त कार्रवाई करके हमास के ठिकानों को लक्ष्य किया| गाजापट्टी की उत्तरी दिशा में होनेवाला हमास का कमांड सेंटर और हथियारों का भंडार इस हमलें में तबाह किया गया| इस्रायली सेना की हमलें पहले ही जानकारी होने से हमास ने अपने आतंकियों को पहले ही वहां से हटाया था, यह जानकारी इस्रायली सेना ने दी|

इसके बाद कुछ ही मिनिटों में इस्रायली वायुसेना ने लेबनान की उत्तरी दिशा में ‘बेका वैली’ इस पहाडी क्षेत्र के ‘कुसाया’ इलाके में हवाई हमलें किए| इस्रायली लडाकू विमान और ड्रोन्स ने यह कार्रवाई की| ‘कुसाया’ में ‘पॉप्युलर फ्रंट फॉर द लिबरेशन ऑफ पैलेस्टाईन’ (पीएफएलपी) ईरान समर्थक आतंकी संगठनों के ठिकानों पर हमलें किए गए| इन हमलों में ‘पीएफएलपी’ का मुख्यालय राख होने का व्हिडिओ सोशल मीजिया पर प्रसिद्ध हुआ है| इस हमलें में जान का नुकसान नही हुआ है, यह दावा हिजबुल्लाह समर्थक स्थानिय माध्यमों ने किया है|

लेबनान में ‘पीएफएलपी’ यह पैलेस्टिनी संगठन इस्रायल के विरोध में आतंकी हरकतें करने में शरीक होने के सबुत पहले ही स्पष्ट हुए थे| इस वजह से अमरिका, जापान, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और यूरोपिय महासंघ ने काफी पहले ही इस संगठन को आतंकी घोषित किया है|

ऐसे में ही, अगले दिनों में इस्रायल को एक ही समय पर कई मोर्चों पर संघर्ष करना होगा, यह चेतावनी इस्रायली सेना अधिकारीयों ने कुछ हफ्तें पहले दी थी| इनमें गाजा की हमास, इस्लामिक जिहाद एवं लेबनान की हिजबुल्लाह और सीरिया में ईरान, हिजबुल्लाह और ईरान से जुडे गुट एक ही समय पर इस्रायल को लक्ष्य करेंगे, यह इशारा इन अधिकारियों ने दिया था| रविवार रात में गाजा और लेबनान में आतंकी ठिकानों पर हमलें करके इस्रायल ने एकही समय पर कई मोर्चों पर लडने की क्षमता और काबिलियत रखने की बात दिखाई है|

 

लेबनान पर किए हमले का इस्रायल को जल्द ही जवाब मिलेगा – हिजबुल्लाह के प्रमुख ने धमकाया

बैरूत – हवाई सीमा लांघकर लेबनान की सार्वभूमता का भंग करनेवाले इस्रायल के ड्रोन हमलों को जल्द ही प्रत्युत्तर मिलेगा, यह धमकी हिजबुल्ला का प्रमुख हसन नसरल्लाह ने दी है| इसके आगे इस्रायल का एक भी ड्रोन लेबनान से वापिस नही जाएगा, हर एक ड्रोन गिराया जाएगा, यह ऐलान हिजबुल्ला के प्रमुख ने किया है|

लेबनान की जनता को एक व्हिडिओ के जरिए संबोधित करते समय नसरल्ला ने इस्रायल के ड्रोन हमलों पर आलोचना की| हिजबुल्लाह के ठिकानों पर आत्मघाती हमलें करने के इरादे से इस्रायल ने यह ड्रोन्स लेबनान में भेजे थे| लेकिन, अपने इरादों में कामयाब नही हो सका है, यह दावा नसरल्ला ने किया| शनिवार रात लेबनान की राजधानी बैरूत में हिजबुल्लाह के इमारत पर एक ड्रोन गिरा है और अन्य ड्रोन वीरान जगह पर गिरा था|

लेकिन, हिजबुल्लाह ने किए इस दावे में जिक्र किए इन ड्रोन्स के बारे इस्रायल ने किसी भी प्रकार की जानकारी नही दी है|.

 

सीरिया, इराक और लेबनान में किए हमलों के इस्रायल को परिणाम भुगतने होंगे – ईरान के जनरल कासेम सुलेमानी

तेहरान – ‘सीरिया, इराक और लेबनान में हमलें करके इस्रायल ने अफनी मुर्खता सिद्ध की है| इन हमलों के साथ ही इस्रायल ने अपने विनाश की ओर कदम बढाया है और इसके आगे इस्रायल को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना होगा’, यह धमकी ईरान की ‘कुदस् फोर्सेस’ के प्रमुख जनरल कासेम सुलेमानी ने दी है|

इस्रायल अपनी अस्तित्व के लिए आखरी संघर्ष कर रहा है, यह दावा जनरल सुलेमानी ने सोशल मीडिया पर किए अपने पोस्ट में किया है| सीरिया से इस्रायल पर आत्मघाती ड्रोन हमलें करने की तैयारी में होनेवाले ईरान के सैनिकों को इस्रायल ने रविवार की सुबह किए हवाई हमलों में ढेर किया था| इस कार्रवाई के बाद जनरल सुलेमानी ने यह प्रतिक्रिया दर्ज की है|

जनरल सुलेमानी के नेतृत्व में ईरान और हिजबुल्लाह ने इस्रायल पर ड्रोन हमलें करने का प्लैन तैयार किया था| इस्रायल के हवाई हमलों से पहले जनरल सुलेमानी ने दमास्कस के निकट बने अड्डे को भेंट देने का दावा इस्रायली सेना कर रही है| लेकिन, सीरिया में अपने लष्करी अड्डे नही है, यह दावा ईरान कर रहा है|

लेकिन, ईरान का यह दावा झुठा है, यह कहकर सीरिया में किए गए हमले में ईरान का एक सैनिक और हिजबुल्लाह के दो आतंकी मारे गए है, यह जानकारी इस्रायल ने घोषित की है| इन दोनों आतंकियों के नाम और फोटो भी इस्रायली सेना ने प्रसिद्ध किए है|

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info