Breaking News

‘जॉर्डन वैली’ पर कब्जा करने के लिए ऐतिहासिक अवसर – इस्रायली प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू ने किया ट्रम्प से निवेदन

जेरूसलम/वॉशिंग्टन – ‘अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प के साथ इस्रायल की सुरक्षा के मुद्दे पर हाल ही में बातचीत हुई| इस दौरान ईरान के मुद्दे के साथ ही नजदिकी समय में प्राप्त होनेवाले अवसरों पर भी खुलकर बातचीत हुई| इस्रायल की पूर्वीय सीमा के तौर पर जानी जा रही जॉर्डन वैली पर कब्जा करने के प्लैन का मुद्दा भी इस बातचीत में शामिल था’, यह ध्यान आकर्षित करनेवाली जानकारी इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने दी|

    

तीन महीने पहले इस्रायल में हुए चुनावों में इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने ‘जॉर्डन वैली’ संबंधी वादा किया था| ‘अगले चुनाव में जीत हासिल करके सरकार बनाने पर अपनी सरकार वेस्ट बैंक के ‘जॉर्डन वैली’ पर सार्वभूम अधिकार स्थापित करेगी’, यह ऐलान इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने किया था| अमरिका भी इस नई जमीन पर इस्रायल का अधिकार स्वीकार करेगी, यह दावा प्रधानमंत्री नेत्यान्याहू ने उस समय किया था|

पिछले कुछ हफ्तों से इस्रायल में सरकार गठित करने की सभी कोशिशें नाकाम साबित हुई है| साथ ही प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू के विरोध में कानुनी कार्रवाई भी जारी है| इस पृष्ठभूमि पर नेत्यान्याहू ने अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प से फोनपर बातचीत की है और इस दौरान चर्चा में रहें मुद्दे ध्यान आकर्षित कर रहे है| ट्रम्प के साथ फोन पर हुए संभाषण की जानकारी देते समय नेत्यान्याहू ने ‘जॉर्डन वैली’ का जिक्र करके इस्रायल की अन्य सियासी गुटों को एकता की याद दिलाई है, यह समझा जा रहा है|

पिछले वर्ष से राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने अमरिका की इस्रायल संबंधी नीति में काफी बडे बदलाव करवाए है| जेरूसलम में अमरिकी दूतावास शुरू करके अमरिका ने यह इस्रायल की राजधानी होने की बात स्वीकार की थी| इसके बाद वर्ष १९६७ से पहले सीरिया का कब्जा रहे गोलान पहाडियों पर इस्रायल का अधिकार होने के दावे पर मुहर लगाई थी| इसके साथ ही पैलेस्टाईन के वेस्ट बैंक में इस्रायली नागरिकों के लिए बनाई जा रही बस्तीयों को कानुनी दर्जा प्रदान करके ट्रम्प प्रशासन ने इस्रायल के समर्थन में बडा कदम बढाया था|

इस पृष्ठभूमि पर इस्रायल अब जॉर्डन वैली पर अधिकार साबित करने की कोशिश करता दिखाई दे रहा है| पैलेस्टाईन फिलहाल गाजापट्टी और वेस्ट बैंक के दो हिस्सों में बटा है| गाजापट्टी में हमास और वेस्ट बैंक में फताह यह दो अलग अलग पैलेस्टिनी संगठन शासक बने है| इनमें से वेस्ट बैंक में राष्ट्राध्यक्ष अब्बास की फताह संगठन का शासन है, फिर भी संयुक्त राष्ट्रसंघ के साथ हुए समझौते के अनुसार इस क्षेत्र की सुरक्षा का जिम्मा इस्रायल को दिया गया है|

जॉर्डन वैली और डेड सी इन दोनों क्षेत्रों में वेस्ट बैंक का ३० प्रतिशत क्षेत्र शामिल है और इस जगह पर ६५ हजार पैलेस्टिनी और ११ हजार इस्रायली लोग रहते है|

English    मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info