Breaking News

ईरान और सोरस के बीच सहकार्य – ईरान के विदेश मंत्री की जानकारी

तेहरान – यूरोपीय देशों में घुसने वाले शरणार्थियों के समर्थक और अमरिका के राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प के कट्टर विरोधक जॉर्ज सोरस के साथ ईरान का सहकार्य शुरू है। ईरान की संसद में बोलते समय विदेश मंत्री जावेद झरिफ ने यह जानकारी दी है। ट्रम्प प्रशासन ने ईरान के साथ के परमाणु अनुबंध से पीछे हटने की तैयारी करने के बाद, सोरस ने इसके खिलाफ ट्रम्प प्रशासन को चेतावनी दी थी। उस पृष्ठभूमि पर ईरान के विदेश मंत्री ने दी यह कबूली अलग ही संकेत दे रहे हैं।

George Soros, warn, Javad Zarif, Open Society Foundation, OSF, Donald Trump, sanctions, collaboration, Media Matters, Nuclear Dealट्रम्प ने ईरान पर लगाए प्रतिबंधों के परिणाम ईरान की अर्थव्यवस्था पर होने लगे हैं। यूरोप और दुनिया भर की बड़ी कंपनियों ने ईरान के साथ के अनुबंध से पीछे हटना शुरू किया है और दो महीनों में ईरान को झटके लगेंगे ऐसी चिंता ईरान स्थित विरोधक और और विश्लेषक करने लगे हैं। पिछले हफ्ते में ईरान की संसद में विरोधकों ने राष्ट्राध्यक्ष रोहानी से इस बारे में पूछा था। विरोधकों के इन सवालों का जवाब देते समय झरिफ ने अमरिका के कुछ प्रभावी और धनि लोग ईरान से जुड़े हैं, ऐसा दावा किया है।

इसमें सोरस के नाम का उल्लेख झरिफ ने किया है। झरिफ के ईरान के विदेश मंत्री के पद को संभालने से पहले से सोरस ईरान से जुड़े थे, ऐसी जानकारी झरिफ ने दी है। सोरस का ‘ओपन सोसाइटी फाउंडेशन्स’ (ओएसएफ) यह संगठन ईरान के सरकार के साथ सहकार्य कर रहा है, ऐसा झरिफ ने कहा है। ईरान सरकार और सोरस के ‘ओएसएफ’ इस संगठन के बीच का यह सहकार्य पुराने और बहुत ही नजदीकी है, ऐसा उल्लेख भी झरिफ ने किया है। उसीके साथ ही पिछले कुछ सालों में कई अड़चनें आने के बाद भी ‘ओएसएफ’ के साथ के सहकार्य शुरू रखने में हमें सफलता मिली है, ऐसा झरिफ ने कहा है।

इस सहकार्य के अंतर्गत सोरस के ‘ओएसएफ’ ने ईरान को कितनी अर्थ सहायता की अथवा अन्य किस तरह की सहायता की, इसकी जानकारी झरिफ ने नहीं दी है। सन २०१३ में ईरान में रोहानी की सुधारवादी सरकार सत्ता पर आई थी। इस सरकार में झरिफ ने विदेश मंत्री के सूत्र संभाले थे। इस वजह से पांच सालों से भी अधिक समय तक सोरस का ‘ओएसएफ’ संगठन ईरान के साथ सहकार्य कर रहा है, ऐसा दिखाई दे रहा है।

दौरान, सोरस ट्रम्प के कडवे विरोधक के तौर पर पहचाने जाते हैं। ट्रम्प वैश्विक व्यवस्था को नष्ट करने के रास्ते पर चल रहे हैं, ऐसी आलोचना सोरस ने तीन महीनों पहले की थी। उसीके साथ ही सन २०२० के पहले ही ट्रम्प राष्ट्राध्यक्ष पद को गंवा देंगे, ऐसी सोरस ने भविष्यवाणी की थी। उसी समय सोरस से संलग्न ‘मीडिया मैटर्स’ इस संगठन ने ट्रम्प के खिलाफ सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने की तैयारी करने की विवादस्पद खबरें सामने आई थी। ऐसी परिस्थिति में, ईरान और सोरस के संगठन के बीच प्रस्थापित हुआ सहकार्य अंतर्राष्ट्रीय राजनीति के एक अलग ही प्रवाह की तरफ ऊँगली दिखा रहा है।

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info