Breaking News

घबराहट में पाकिस्तान

इस्लामाबाद – इस्रायल को साथ लेकर भारत पाकिस्तान के कराची, बहावलपूर के साथ अन्य ठिकानों पर हमलें करेगा, इस डर से पाकिस्तान की घबराहट हुई है। पाकिस्तान के कुछ समाचार चैनलों ने सूत्रों का दाखिला देकर ऐसे समाचार प्रसिद्ध किए है। पाकिस्तान के वायु सेना प्रमुख ने भी देश के सामने खडा संकट अभी दूर नही हुआ है, यह कहकर अपनी वायुसेना को तैयार रहने के आदेश जारी किए है। भारत ने हमला किया तो उसे प्रत्युत्तर दिया जाएगा, ऐसी धमकियां भी पाकिस्तान से दी जा रही है। लेकिन, वास्तव में भारत का हमला होने के डर से पाकिस्तान की हुई घबराहट स्पष्ट तौर पर दिखाई दे रही है।

फरवरी २७ के दिन भारत के हवाई सीमा में घुसने के बाद आसमान में हुई मुठभेड के दौरान भारत का ‘मिग-२१’ विमान गिरने से पाकिस्तान में खुशी का माहौल था। भारत को सबक सिखाने के दावे भी इस दौरान पाकिस्तान के भूतपूर्व लष्करी अधिकारी, सामरिक विश्‍लेषक और अन्य नेता करने लगे थे। साथ ही दोनों देशों में युद्ध शुरू ना होने से हम हताश हुए है, ऐसा दावा पाकिस्तानी जनता कर रही थी यह जानकारी पाकिस्तान के रेलमंत्री ने संसद में रखी थी। लेकिन, अब पाकिस्तान की वास्तविक स्थिति सामने आने लगी है। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में ‘फोर्ट अब्बास’ क्षेत्र में भारत के लडाकू विमानों ने हमला करने का समाचार सोशल मीडिया पर प्रसिद्ध हुई है। इसके बाद बहावलपूर से कुछ किलोमीटर दूरी के इस ठिकाने पर डर का माहौल बना था। इस बारे में पाकिस्तान की यंत्रणा तुरंत ही भारत के लडाकू विमानों ने पाकिस्तान में प्रवेश किया नही है, यह खुलासा करने पर मजबूर हुई थी

इस घटना से पाकिस्तानी जनता में मन में भारत का हवाई हमला होने का डर बना होने की बात सामने आ रही है। इतनाही नही, बल्कि भारत इस्रायल की सहायता पाकिस्तान के कराची, बहावलपूर एवं अन्य जगहों पर जोरदार हमले करेगा और राजस्थान में भारतीय लष्करी अड्डों से यह हमलें होंगे, ऐसा दावा पाकिस्तान के कुछ समाचार चैनल और समाचार पत्रों ने किया है।

इसके लिए इन चैनल और समाचार पत्रों ने सरकारी सूत्रों का दाखिला भी दिया है। इस वजह से पाकिस्तान अब डर के मारे कांप उठा दिखाई दे रहा है और पाकिस्तान की वायुसेना के प्रमुख ने भी देश के सामने खडा संकट अभी दूर नही हुआ है, ऐसी चेतावनी भी दी है। पाकिस्तान की वायु सेना गाफिल ना रहे, ऐसा पाकिस्तान के वायुसेना प्रमुख मुजाहिद अन्वर खान ने कहा है।

भारत के साथ बातचीत शुरू नही है फिर भी भारत ने पाकिस्तान पर हमला किया तो उसे जवाब दिया जाएगा, यह संदेशा भारत सरकार तक पहुंचाया गया है, यह दावा पाकिस्तान के माध्यम कर रहे है। लेकिन, भारत का हमला होने से पहले से ही पाकिस्तान के व्यापार क्षेत्र और अर्थव्यवस्था पर हो रहे परीणाम दिखने लगे है। इसी लिए अगल अलग मार्ग से भारत के हमले से बचने के लिए पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय समुदाय को मध्यस्थता करने के लिए निवेदन कर रहा है। पाकिस्तान के अमरिका में नियुक्त राजदूत मलिहा लोधी इन्होंने यह चेतावनी दी है की, पाकिस्तान अपनी अफगानिस्तान की सीमा पर तैनात सेना वहां से हटाकर भारतीय सीमा पर तैनात करेगा।

अफगानिस्तान की सीमा पर खडी अपनी सेना की वजह से ही अफगानिस्तान में शांति है। यह सेना हटाई तो अफगानिस्तान के साथ वहां पर तैनात अमरिकी सेना की सुरक्षा के लिए खतरा बनेगा, ऐसा अंदाजा मलिहा लोधी इन्होंने दी चेतावनी के पीछे है। लेकिन, अफगान सीमा से पाकिस्तानी सेना हटी तो उससे ज्यादा खतरा पाकिस्तान के लिए ही होने की संभावना है।

English   मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info