Breaking News

भारतीय सेना के जवाबी हमले में पाकिस्तान के १२ सैनिक ढेर – पाकिस्तानी सेना की कई चौकियां तबाह

श्रीनगर – जम्मू-कश्मीर की नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी करके भारतीय सैनिकों की हत्या करनेवाले पाकिस्तान को भारतीय सेना ने अच्छा सबक सिखाया है| गुरूवार के दिन नियंत्रण रेखा पर सुंदरबनी सेक्टर के निकट पाकिस्तानी सेना ने बनाई कई चौकियां भारतीय सैनिकों ने तबाह की है| इस कार्रवाई में पाकिस्तान के १२ सैनिक ढेर हुए है और इनमें पाकिस्तानी सेना के दो अधिकारियों का भी समावेश है| इसके अलावा भारतीय सैनिकों के जवाबी हमले में पाकिस्तान के २२ सैनिक घायल होने का समाचार है| पिछले दो दिनों से सुंदरबनी सेक्टर में दोनों देशों की सेना में घमासान मुठभेड शुरू है| गुरूवार के दिन हुई मुठभेड के दौरान भारत का एक सैनिक शहीद हुआ था|

‘बालाकोट’ में भारतीय वायुसेना ने हमला करके आतंकियों को ढेर किया था| उसके बाद पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर के नियंत्रण रेखापर गोलाबारी एवं मॉर्टर्स के साथ जोरदार हमलें शुरू किए थए| साथ ही पाकिस्तानी सेना ने इन जगहों पर हमले के लिए लंबी दूरी की तोंपों का भी इस्तेमाल जारी रखा है| इस वजह से भारत के सरहदी क्षेत्र में रियासी इलाके में काफी तबाही हो रही है| इस दौरान भारतीय सेनाने पाकिस्तान को चेतावनी दी है और इस दौरान भारतीय सेना कभी भी इस तरह की कार्रवाई करती नही है, यह भी कहा है| उसके बाद कुछ समय के लिए पाकिस्तान ने गोलीबारी रोक दी थी| लेकिन, कुछ समय बाद पाकिस्तान ने दुबारा गोलीबारी शुरू की| नियंत्रण रेखा पर राजौरी, सुंदरबनी सेक्टर में पाकिस्तान की गोलीबारी एवं मॉर्टर्स के हमलें तेज हो रहे है, ऐसा पिछले कुछ दिनों से सामने आ रहा था|

इन हमलों को भारतीय सेना जवाब दे रही है और पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए सेना ने बोफोर्स तोंप तैनात करने का समाचार है| इसके साथ ही सेना ने स्नायपर रायफल का इस्तेमाल शुरू करके पाकिस्तान को जैसे को तैसा जवाब दिया है| लेकिन, गुरूवार के दिन पाकिस्तानी सेना ने किए हमले में भारतीय सैनिक यश पौल शहीद हुए| उसके बाद सेना ने नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना की चौकियों पर जोरदार हमला शुरू किया| इस दौरान पाकिस्तानी सेना की कई चौकियां तबाह हुई है और इस दौरान पाकिस्तान के १२ सैनिक ढेर हुए है| मारे गए सैनिकों में पाकिस्तानी सेना के दो अधिकारियों का भी समावेश है| इस दौरान पाकिस्तान के २२ सैनिक घायल होने की जानकारी स्पष्ट हुई है| इस दौरान अपने सैनिकों का शव उठाने के लिए पाकिस्तान ने हेलिकॉप्टर्स का इस्तेमाल करने का वृत्त भी सामने आ रहा है|

शुक्रवार के दिन भी नियंत्रण रेखा पर पुंछ सेक्टर में दोनों देशों की सेना के बीच मुठभेड हुई| इस दौरान पाकिस्तानी सेना ने बडी तादाद में गोलीबारी एवं हमले के लिए मॉर्टर्स और तोपों का इस्तेमाल करके भारतीय सेना ने किए नुकसान का बदला लेने की कोशिश की| लेकिन, भारतीय सेना ने इस कोशिश पर भी जोरदार जवाब दिया है| ऐसे में नियंत्रण रेखा पर फिलहाल युद्ध ही हो रहा है, यह दावा स्थानिय लोग कर रहे है और इस वजह से कई गावों के लोगों को सुरक्षित जगह पर रखा गया है| इस दौरान भारतीय सेना की नॉर्दन कमांड के प्रमुख लेफ्टनंट जनरल रणबिर सिंग इन्होंने राजौरी सेक्टर को भेंट देकर स्थिति की जानकारी प्राप्त की| इस दौरान उन्होंने सीमा पर भारतीय चौकियों का और युद्ध की तैयारी का मुआयना किया और सैनिकों से बातचीत की|

शनिवार के दिन पाकिस्तान में ‘नैशनल डे’ मनाया जाएगा| इस अवसर पर भारत को आमंत्रित भी किया गया था| लेकिन, जम्मू-कश्मीर के अलगाववादियों को आमंत्रित करके पाकिस्तान ने उकसाया है, यह आरोप करके भारत ने पाकिस्तान का निमंत्रण ठुकराया है| साथ ही जो भी कोई अलगाववादी नेता पाकिस्तान का निमंत्रण स्वीकार करके उस देश को भेंट देंगे, उनपर कडी कार्रवाई करने के संकेत भी भारत से दिए जा रहे है| इस वजह से दोनों देशों के संबंधों में और भी तनाव निर्माण हुआ है और अगले समय में यह तनाव कम होने की संभावना नजर नही आ रही|

ऐसे में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इम्रान खान ने भारत के साथ बना तनाव कम होने के बजाय लगातार बढता रहेगा और इस तनाव का संबंध भारत में होने वाले चुनाव से भी जोड दिया है| भारत में चुनाव खतम नही होते तब तक पाकिस्तान युद्ध की तैयारी बनाकर रेखे, ऐसा इम्रान खान ने कहा है| लेकिन, भारत ने पाकिस्तान को लेकर अपनाई इस आक्रामक निती का भारत में हो रहे चुनाव से संबंध नही है, यह चेतावनी कुछ पाकिस्तानी विश्‍लेषकों ने अपनी ही सरकार को दी है| पाकिस्तान की सरकार यह बात बडी गंभीरता से गौर करे, यह इन विश्‍लेषकों की मांग है|

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info