Breaking News

सौदी अरब का पहला परमाणु केंद्र पूरा होने के समीप

वॉशिंगटन – अमरिका और अन्य यूरोपीय मित्रदेशों के साथ परमाणु समझौता करने की तैयारी में होनेवाले सौदी अरब ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को जरा भी भनक लगने दिए बिना अपने पहले परमाणु केंद्र का निर्माण किया है, यह दावा अमरिकी वृत्तपत्र ने किया है| राजधानी रियाध में सौदी इस परमाणु केंद्र का निर्माण कर रहा है और अगले वर्ष तक इस केंद्र का निर्माण कार्य पूरा होगा, यह दावा किया जा रहा है| लेकिन, परमाणु हथियार विरोधी समझौते पर हस्ताक्षर किए बिना ही सौदी ने इस परमाणु केंद्र का निर्माण करने से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आश्‍चर्य व्यक्त किया जा रहा है| यदि ईरान परमाणु हथियार प्राप्त करता है तो सौदी अरब भी परमाणु हथियार प्राप्त किए बिना नही रहेगा, यह ऐलान सौदी ने कुछ महीने पहले किया था|

अमरिका में प्रमुख समाचार पत्र ने कंप्युटर प्रोग्रम के जरीए पिछले कुछ महीनों में सैटलाईट से लिए गए फोटो प्राप्त किए है| इन फोटोग्राफ्स की सहायता से सौदी परमाणु केंद्र का निर्माण कर रहा है, यह दावा इस समाचार पत्र ने किया है| राजधानी रियाश में ‘किंग अब्दुल अजिज सिटी फॉर सायन्स ऍण्ड टेक्नॉलॉजी’ की इमारत के निकट ही सौदी के इस पहले परमाणु केंद्र का निर्माण हो रहा है, यह इस समाचार पत्र का कहना है| पिछले कुछ सप्ताहों में इस परमाणु केंद्र में तेजी से बदलाव हो रहे है और एक वर्ष के दौरान सौदी के इस परमाणु केंद्र का निर्माण कार्य पूरा होगा, यह दावा इस समाचार पत्र ने किया है|

सैटलाईट से फोटो खिंचे जाने से इस परमाणु केंद्र के कई बातों का खुलासा हो नही सका है| लेकिन, परमाणु कार्यक्रम के तहेत एक भी अंतरराष्ट्रीय समझौता किए बिना सौदी ने इस परमाणु केंद्र का निर्माण करके अंतरराष्ट्रीय समुदाय को चुनौती दी है, यह इस अमरिकी समाचार पत्र का कहना है| यह परमाणु केंद्र नागरी इस्तेमाल के लिए है और इसका इस्तेमाल परमाणु हथियारों के निर्माण के लिए नही होगा, यह सौदी को अंतरराष्ट्रीय समुदाय को समझाना होगा| साथ ही अंतरराष्ट्रीय परमाणु उर्जा आयोग के नियमों का पालन किए बिना कोई भी देश सौदी को इस परमाणु केंद्र के लिए ईंधन की आपुर्ति नही करेगा, यह भी इस समाचार पत्र ने अपने वृत्त में कहा है|

अमरिकी वृत्तपत्र ने प्रसिद्ध किए इस समाचार को लेकर सौदी की उर्जा विभाग ने प्रतिक्रिया दर्ज की है और यह परमाणु केंद्र नागरी इस्तेमाल के लिए ही है, यह कहा है| इस परमाणु केंद्र का निर्माण अंतरराष्ट्रीय समझौते के नुसार हुआ है और संशोधन, शिक्षा एवं प्रशिक्षण के लिए इस परमाणु केंद्र का उपयोग किया जाएगा, यह जानकारी सौदी के उर्जा विभाग ने दी है| साथ ही इस परमाणु केंद्र को कोई भी भेंट दे सकता है, यह निवेदन भी सौदी ने किया है|

सौदी ने इससे पहले ही परमाणु केंद्र के निर्माण के लिए पश्‍चिमी देशों के साथ समझौता करने का ऐलान किया था| ईंधन को विकल्प के तौर पर परमाणु उर्जा का इस्तेमाल करने का इरादा सौदी ने व्यक्त किया था| कम से कम १६ परमाणु उर्जा केंद्रों का निर्माण करने का ऐलान सौदी ने किया था| इसके लिए सौदी ने अमरिका के साथ बातचीत की है और अमरिका ने भी सौदी को परमाणु केंद्र का निर्माण करने के लिए सहायता करने की बात मान ली थी| लेकिन, सौदी परमाणु हथियारों के निर्माण के लिए ही इन परमाणु केंद्र के निर्माण की कोशिश में होने का आरोप अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हुआ था|

पिछले वर्ष सौदी के क्राउन प्रिन्स मोहम्मद बिन सलमान इन्होंने ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर आपत्ति जताई थी| साथ ही ईरान परमाणु हथियार प्राप्त करत है तो सौदी भी परमाणु हथियार प्राप्त करने से दूर नही रहेगा, यह इशारा भी क्राउन प्रिन्स मोहम्मद इन्होंने दिया था| इसके लिए सौदी ने प्रयत्न भी शुरू किए है, ऐसे समाचार भी प्रसिद्ध हुए थे| इस पृष्ठभूमि पर सौदी के इस परमाणु केंद्र के निर्माण की ओर देखा जा रहा है|

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info