Breaking News

अब बोलिव्हिया में गृहयुद्ध शुरू करेंगे – भूतपूर्व राष्ट्राध्यक्ष मोरालेस के समर्थकों ने धमकाया

ला पाझ – बोलिव्हिया के राष्ट्राध्यक्ष इवो मोरालेस इस्तीफा देकर मेक्सिको भाग गए है| इसके बाद उनके समर्थकों ने आक्रामक रवैया दिखाकर राजधानी ‘ला पाझ एवं एल अल्तो’ में मोलेस में प्रदर्शन और हिंसा शुरू की है|  इसके बाद अब बोलिव्हिया में गृहयुद्ध शुरू करेंगे, यह धमकी भी उन्होंने दी है| मोरालेस के इस्तीफे के बाद सांसद नेता जेनिन अनेझ ने बतौर हंगामी राष्ट्राध्यक्ष पद की जिम्मेदारी स्वीकारी थी| इसके बाद मोरालेस के समर्थकों ने हिंसा शुरू की है और यह देश अब अराजकता की दिशा में आगे बढता दिख रहा है|

पिछले महीने में हुए राष्ट्राध्यक्ष पद के चुनाव में इवो मोरालेस ने खुद को विजयी घोषित किया था| उनके इस निर्णय पर देशभर से कडी प्रतिक्रिया उमडी और व्यापक प्रदर्शन शुरू हुए| कुछ ही दिनों में इन प्रदर्शनों में हिंसा शुरू हुई| इसी बीच देश के कई हिस्सो में पुलिस यंत्रणा और सेना ने राष्ट्राध्यक्ष मोरालेस को सहयोग करने से इन्कार किया| बोलिव्हिया की सुरक्षा यंत्रणा पर नियंत्रण ना रहने से मुश्किलों में फंसे मोरालेस इस्तीफा देने के लिए विवश हुए थे|

मोरालेस के साथ ही संसद के चार प्रमुख नेताओं ने इस्तीफा देने से देश में सियासी अस्थिरता की स्थिति बनी है| इस स्थिति से बाहर निकलने के लिए दक्षिणपंथी सांसद जेनिन अनेझ ने बतौर हंगामी राष्ट्राध्यक्ष के तौर पर देश का नियंत्रण हाथ में लेने का ऐलान किया| अनेझ के निर्णय को देश की सुरक्षा यंत्रणाओं समेत अमरिका, रशिया, ब्राजिल, कोलंबिया ने समर्थन दिया है| पर दक्षिणपंथी गुट की नेता हंगामी राष्ट्राध्यक्ष होने से मोरालेस के समर्थकों में नाराजगी का माहौल बना है|

इसी नाराजगी से अब मोरालेस के समर्थकों ने देश की राजधानी समेत अलग अलग हिस्सों में प्रदर्शन शुरू किए है| मोरालेस की सरकार का तख्तापलट करने के लिए साजिश की गई थी, यह आरोप उनके समर्थक कर रहे है और यह साजिश उधेड ने का इशारा दिया है| इसके लिए देश में जोरदार संघर्ष शुरू करके गृहयुद्ध शुरू करने की धमकी भी मोरालेस के समर्थकों ने दी है| इस हिंसक प्रदर्शनकारियों के विरोध में सुरक्षायंत्रणाओं ने कार्रवाई शुरू की है और इसमें कुछ लोग जख्मीं होने की खबर भी प्राप्त हुई है|

    

भूतपूर्व राष्ट्राध्यक्ष मोरालेस इस्तीफे के बाद देश के बाहर भाग गए है और उन्होंने मेक्सिको में पनाह ली है| हमें सत्ता से गिराने में अमरिका हाथ है, यह आरोप करके बोलिव्हिया में शुरू हुआ प्रदर्शन ‘कलर रिव्होल्युशन’ का हिस्सा होने का दावा उन्होंने किया है| यूरोप के ‘बाल्कन’ देश एवं पहले रशियन संघराज्य का हिस्सा रहें देशों में सरकार के विरोध में शुरू हुए प्रदर्शनों को ‘कलर रिव्होल्युशन’ कहा जाता है| इन प्रदर्शनों के पीछे अमरिका का हाथ होने की बात स्पष्ट हुई थी| इसी बुनियाद पर बोलिव्हिया में अपनी सरकार का तख्तापलट किया गया है, यह दावा मोरालेस कर रहे है|

पिछले कुछ वर्षों में लैटिन अमरिका के ब्राजिल, कोलंबिया जैसे देशों में लगभग पिछले दस वर्षों से सरकार में रही वामपंथी विचारधारा की हुकूमत का तख्तापलट हुआ है| वेनेजुएला में सियासी परिवर्तन होने की गतिविधियां शुरू हुई है| इक्वेडोर और चिली में सरकार के विरोध में तीव्र प्रदर्शन हो रहे है| इसी पृष्ठभूमि पर बोलिव्हिया में मोरालेस की सत्ता का तख्तापलट हुआ है और इस वजह से लैटिन अमरिकन देशों में असंतोष खौल रहा है, यह बात अब दुनिया के सामने आ चुकी है|

English   हिंदी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info