Breaking News

राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने किया ‘डील ऑफ सेंच्युरी’ का ऐलान

•. अखंड जेरूसलेम इस्रायल की राजधानी

•. पैलेस्टाईन को दोगुनी जमीन देने की तैयारी

. पैलेस्टिनीयों के लिए ५० अरब डॉलर्स का प्रस्ताव

वॉशिंग्टन – इस्रायल और पैलेस्टाईन के मसले का हल निकालने के लिए यह आखरी मौका है, यह कहकर अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने अपनी ‘डील ऑफ द सेच्युरी’ का ऐलान किया| इसके अनुसार पुरा ‘जेरुसलम’ इस्रायल की ही राजधानी रहेगी| साथ ही पैलेस्टाईन के वर्तमान के जमीनी हिस्से में बढोतरी करके इसका आकार दोगुना किया जाएगा| ईस्ट जेरुसलम में पैलेस्टाईन के राजधानी की जगह रहेगी, यह घोषणा ट्रम्प ने की है| इस मसले का यह हल स्वीकारा तो पैलेस्ट्रीन में अमरिका करीबन ५० अरब डॉलर्स का निवेश करेगी, यह प्रस्ताव राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने रखा है|

इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू की मौजुदगी में अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष ने अपा यह प्लैन पेश किया| करीबन ५० पन्नों के इस प्लैन की अहम जानकारी ट्रम्प ने सामने रखी| इसके अनुसार अखंड जेरूसलम इस्रायल की राजधानी रहेगी यह कहकर ट्रम्प ने इस ‘अखंड’ शब्द पर काफी जोर दिया| तभी फिलहाल पैलेस्टाईन को उनकी जमीन से दोगुनी जमीन देकर ईस्ट जेरूसलम के कुछ दिस्से में पैलेस्टाईन को राजधानी का निर्माण करना संभव होगा, यह प्रस्ताव अमरिकी राष्ट्राध्यक्ष ने दिया|

पैलेस्टिनी जनता ईस्ट जेरूसलम में अपने श्रद्धास्थान को कभी भी भेंट दे सकेगी, यह कहकर ट्रम्प ने इसके लिए इस्रायल कटिबद्ध होने का भरोसा दिलाया| साथ ही पैलेस्टाईन के हिस्से में इस्रायल ने शुरू किए ज्यूधर्मियों की बस्ती का काम चार वर्ष के लिए बंद करने का ऐलान इस प्रस्ताव में किया गया है| अपने इस प्रस्ताव का स्वीकार करके पैलेस्टाईन ने आतंकवाद की राह छोडी, तो पैलेस्टाईन में अमरिका करीबन ५० अरब डॉलर्स का निवेश करेगी, यह ऐलान राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प ने किया| इस वजह से पैलेस्टाईन को किसी के अनुदान पर निर्भर रहने की जरूरत नही रहेगी, यह बयान भी ट्रम्प ने आगे किया|

  ‘Deal of the Century’, resolving Israel-Palestine issue, Benjamin Netanyahu, Donald Trump, Jerusalem, Jewish settlements, Washington    ‘Deal of the Century’, resolving Israel-Palestine issue, Benjamin Netanyahu, Donald Trump, Jerusalem, Jewish settlements, Washington

इस्रायल और पैलेस्टाईन के मसले का हल निकालने के लिए यह अंतिम मौका होने का दावा भी ट्रम्प ने किया| अपने इस प्लैन की वजह से एक भी इस्रायली या पैलेस्टिनी को अपनी जगह छोडने की जरूरत नही रहेगी, यह कहकर दोनों पक्षों के लिए यह जीत ही साबित होगी, यह ट्रम्प का कहना है| पैलेस्टाईन के साथ शांति स्थापित करने के लिए इस्रायल ने काफी बडा कदम उठाया है, यह दावा करके ट्रम्प ने इस के लिए इस्रायल की सराहना की है| खास तौर पर इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेत्यान्याहू ने पैलेस्टिनीं के लिए बडी उदारता दिखाई है, ऐसा ट्रम्प ने कहा है|

जेरूसलम यह इस्रायल की राजधानी होने की बात अमरिका ने पहले ही मंजूर की थी| इस वजह से जेरूसलम पर इस्रायल के अधिकार से समझौता करना मुमकिन नही है, यह बात ट्रम्प ने पहले ही स्पष्ट की थी| दुनिया भर से हो रहे विरोध की परवाह किए बिना ट्रम्प ने यह निर्णय किया था| पर अब हमें पैलेस्टिनियों के लिए कुछ करना है, यह कहकर ट्रम्प ने यह प्रस्ताव रखा है|

English    मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info