Breaking News

सीरिया में स्थित ईरान के ठिकानों पर इस्रायल ने किए जोरदार हमलें – अपने मालवाहक जहाज़ पर हुए हमले को दिया इस्रायल ने प्रत्युत्तर

दमास्कस/जेरूसलेम – सीरिया की राजधानी दमास्कस के करीबी इलाके में इस्रायल ने हमलें किए होने का आरोप सीरियन माध्यमों ने किया हैं। इन हमलों में कितना नुकसान हुआ इसका ब्यौरा सीरियन सेना या माध्यमों ने प्रदान नहीं किया है। लेकिन, दमास्कस में स्थित ईरान के लष्करी ठिकानों को इस्रायल ने लक्ष्य किया है, यह दावा इस्रायली माध्यम कर रहे हैं। बीते हफ्ते में ओमान की खाड़ी से यात्रा कर रहें इस्रायली मालवाहक जहाज़ पर हुए विस्फोट के प्रत्युत्तर के तौर पर इस्रायल ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया होने की बात इस्रायली माध्यमों ने कही है।

इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने सोमवार के दिन ‘हेलियॉस रे’ नामक मालवाहक जहाज़ पर हुए रहस्यमय विस्फोट के लिए स्पष्ट तौर पर ईरान ज़िम्मेदार होने का आरोप किया। ‘ईरान ही इस्रायल का सबसे बड़ा शत्रु है और इस्रायल ने खाड़ी क्षेत्र के हर हिस्से में ईरान को बड़े झटके दिए हैं’, ऐसा बयान भी प्रधानमंत्री नेतान्याहू ने इस्रायली समाचार चैनल को दिए साक्षात्कार के दौरान किया। पुख्ता कौन से क्षेत्र में इस्रायल ने ईरान पर कार्रवाई की, इसका खुलासा करने से इस्रायल के प्रधानमंत्री दूर रहे।

लेकिन, इस साक्षात्कार के कुछ घंटे पहले रविवार रात करीबन १०.१५ बजे इस्रायल ने राजधानी दमास्कस के करीब हवाई हमलें किए, ऐसा आरोप सीरियन माध्यमों ने किया है। समय पर हवाई सुरक्षा यंत्रणा को कार्यान्वित करने से कई मिसाइल मार गिराये गए, ऐसा सीरियन माध्यमों ने कहा हैं। इससे पहले भी इस्रायल के हवाई हमलों को सफलता से नाकाम करने के दावे सीरियन सेना ने किए थे। लेकिन, इस्रायल के हमलों में ईरान और ईरान से जुड़े गुटों के आतंकी ढ़ेर होने की जानकारी सीरिया की मानव अधिकार संगठनों ने प्रसिद्ध की थी।

इस वजह से रविवार की रात हुए इन हमलों में बड़ी मात्रा में जान का नुकसान होने की संभावना जताई जा रही है। इस्रायली सेना ने हमेशा की तरह सीरियन माध्यमों में प्रसिद्ध हो रहीं खबरों पर खुलासा देना टाल दिया है। लेकिन, रविवार की सुबह इस्रायल की सुरक्षा समिती की विशेष बैठक हुई। ओमान की खाड़ी में इस्रायली जहाज़ पर हुए विस्फोट पर जवाब देने के मुद्दे पर इस दौरान चर्चा होने का दावा इस्रायली माध्यम कर रहे हैं।
इसी बीच, इस्रायल के ‘हेलियॉस रे’ जहाज़ पर हुए रहस्यमय विस्फोट के पीछे हम नही हैं, यह बात ईरान के नेता बीते दो दिनों से कह रहे हैं। लेकिन, ईरान की राजनीति में सर्वाधिकार होनेवाले सर्वोच्च धार्मिक नेता आयातुल्ला खामेनी से जुड़े अखबार ने इस्रायल के जहाज़ पर ईरान ने ही हमला करने की बात स्वीकारी है। सीरिया और इराक में स्थित ईरान और ईरान से जुड़े गुटों पर हो रहें हमलों पर जवाब देने के लिए यह हमला करने की बात ईरानी अखबार ने कही है।

English मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info