Breaking News

जॉर्जिया में चल रहें ‘अमरिका-नाटो’ युद्ध अभ्यास पर रशिया की कडी निंदा

मॉस्को/तबलिसी – स्थैर्य और सुरक्षा के लिए हेलिकॉप्टर्स और टैंकस् नही तो रचनात्मक बातचीत सहायक साबित होती है, ऐसे शब्दों में रशिया ने जॉर्जिया में शुरू अमरिका और नाटो के युद्ध अभ्यास की कडी निंदा की। जॉर्जिया में १ अगस्त से ‘नोबल पार्टनर २०१८’ नामक भव्य युद्ध अभ्यास शुरु हो चुका है। इस में जॉर्जिया और अमरिका के साथ १३ देशों के तीन हजार से ज्यादा सैनिक सहभागी हुए है। जॉर्जिया में रशिया समर्थक विघटनवादी प्रांत के रुप में पहचाने जानेवाले ‘साऊथ ऑसेटिया’ के नजदीक यह अभ्यास शुरु है। क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए अभ्यास का आयोजन किया गया है, ऐसी जानकारी जॉर्जिया ने दी।

अमरिका-नाटो, युद्ध अभ्यास, नोबल पार्टनर, सर्जेई लॅव्हरोव, अमरिका, जॉर्जिया, रशिया, world war 3, ब्रिटन

पिछले महीने रशिया के राष्ट्राध्यक्ष व्लादिमिर पुतिन ने नाटो को फटकार लगायी थी। रशिया के पडोसी देश रहें यूक्रेन और जॉर्जिया में विस्तारवाद की नाटो की कोशिशों को रशिया विरोध करेगी, ऐसे पुतनि ने बताया था। उसके बाद रशिया के विदेश मंत्री सर्जेई लॅव्हरोव ने रशियन नेतृत्त्व को अमरिका और पश्‍चिमी देशों के रशिया के खिलाफ चल रहें कार्रवाई की पूर्ण कल्पना है, ऐसी चेतावनी दी थी। इस पृष्ठभूमी पर जॉर्जिया में आयोजन हुआ अमरिका और नाटो का भव्य अभ्यास रशिया को चुनौती देने का प्रयास माना जा रहा है।

१ से १५ अगस्त ऐसे करीब दो हफ्तों तक चालू रहनेवाला यह अभ्यास ‘वझिआनी एअरफिल्ड’ और ‘कॅम्प नोरिओ ट्रेनिंग एरिआ’ इन क्षेत्रों में आयोजित किया गया है। इस में जॉर्जिया के १,३०० सैनिकों के साथ अमरिका के करीब १,१७० सैनिक सहभागी हुए है। साथ ही ब्रिटन, जर्मनी, फ्रान्स, इस्टोनिया, लिथुआनिया, पोलंड, नॉर्वे, तुर्की, आर्मेनिआ, अझरबैजान और यूक्रेन के ५०० से ज्यादा सैनिक भी शामिल है।

अमरिका-नाटो, युद्ध अभ्यास, नोबल पार्टनर, सर्जेई लॅव्हरोव, अमरिका, जॉर्जिया, रशिया, world war 3, ब्रिटन

अमरिका के ‘ब्लॅकहॉक’ और ‘अपाचे’ हेलिकॉप्टर्स के साथ ‘ब्रॅडले फायटिंग व्हेईकल’ तथा ‘अब्राम्स’ टैंक्स अभ्यास में हिस्सा ले रहे है। ‘नोबल पार्टनर’ युद्ध अभ्यास का यह चौथा साल है। अगले महीने नाटो द्वारा ‘एजाईल स्पिरिट’ नामक अभ्यास का भी आयोजन किया गया है।

नाटो के इन युद्ध अभ्यासों पर रशिया द्वारा तीव्र नाराजगी जतायी गयी है। यह अभ्यास रशिया पर दबाव डालने की योजना का हिस्सा है, ऐसा रशिया ने कहा है।

English  मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info