Breaking News

हिजबुल्लाह के पास पूरे इस्रायल को लक्ष्य करनेवाले गायडेड क्षेपणास्त्र – सालभर में क्षेपणास्त्र दो गुना बढ़ाये होने की हिजबुल्लाह प्रमुख की घोषणा

बैरूत – इस्रायल के किसी भी शहर पर सटीकता से हमलें करनेवाले गायडेड क्षेपणास्त्र हिजबुल्लाह के पास हैं। पिछले वर्ष की तुलना में हिजबुल्लाह ने इन क्षेपणास्त्रों की संख्या दो गुना बढ़ायी है, ऐसी चेतावनी हिजबुल्लाह का प्रमुख हसन नसरल्ला ने दी। इस चेतावनी के साथ ही, ईरान के लष्करी अधिकारी कासेम सुलेमानी की हत्या के लिए इस्रायल और सौदी अरब ने अमरीका को उक़साया, ऐसा नसरल्ला ने कहा है। ‘इस समय भी अमरीका, इस्रायल और सौदी मिलकर मेरी हत्या की साज़िश कर रहे हैं’, ऐसा आरोप नसरल्ला ने किया। हिजबुल्लाह के पास होनेवाले गायडेड क्षेपणास्त्रों की दोगुनी हुई संख्या, इस संगठन पर कार्रवाई करने का न्यौता देनेवाली साबित हो सकती है।

पिछले महीने में ईरान में परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फखरीझादेह की हत्या के बाद हिजबुल्लाह का प्रमुख हसन नसरल्ला यह भूमिगत हुआ होने का दावा इस्रायली माध्यमों ने किया था। कुछ माध्यमों ने तो, हिजबुल्लाह प्रमुख ने ईरान में आश्रय लिया है, ऐसा भी कहा था। लेकिन रविवार को हिजबुल्लाह-प्रमुख ने बैरूतस्थित न्यूज़चैनल को चार घंटे का प्रदीर्घ इंटरव्यू दिया। इसमें नसरल्ला ने, अपना संगठन पहले से अधिक शस्त्रसिद्ध और ताकतवर हुआ है, ऐसा बताया। हिजबुल्लाह के सामर्थ्य के बारे में बहुत कुछ रहस्यमयी होकर, इस्रायल को इसके बारे में कुछ ख़ास जानकारी नहीं है, ऐसा नसरल्ला ने बताया है।

इसके लिए इस आतंकवादी संगठन के प्रमुख ने, हिजबुल्लाह के पास होनेवाले क्षेपणास्त्रों की क्षमता की जानकारी साझा की। इस्रायल द्वारा बार बार लेबेनॉन के बेका इस पूर्वी भाग में होनेवाला हिजबुल्लाह का कारखाना नष्ट करने की चेतावनी दी जाती है। लेकिन यदि इस्रायल ने वैसा किया, तो पूरे इस्रायल पर क्षेपणास्त्रों के हमलें करने की क्षमता हिजबुल्लाह के पास है, ऐसा नसरल्ला ने घोषित किया। इस्रायल के हर एक शहर पर सटीकता से हमला कर सकनेवाले गायडेड क्षेपणास्त्र हिजबुल्लाह ने विकसित किये होने का दावा नसरल्ला ने किया। पिछले साल हिजबुल्लाह के भांडार में जितने गायडेड क्षेपणास्त्र थे, उससे दुगुनी संख्या के इन क्षेपणास्त्रों से हिजबुल्लाह लैस है, ऐसा नसरल्ला ने कहा।

इसके बाद हिजबुल्लाह-प्रमुख ने इस्रायल से बदला करने की धमकी दी। हिजबुल्लाह का वरिष्ठ कमांडर अली कामेल मोहसिन जवाद समेत, ईरान के कुद्स फोर्सेस के प्रमुख मेजर जनरल कासेम सुलेमानी, कतैब हिजबुल्लाह इस ईरान से जुड़े इराकी संगठन के प्रमुख अबू महदी अल-मोहानदीस इनकी हत्याओं का बदला लिया जायेगा, ऐसी धमकी नसरल्ला ने दी। इनमें से अली कामेल यह इस्रायल ने सिरिया में किये हमले में मारा गया था। वहीं, सुलेमानी और मोहानदीस को अमरीका ने इराक में किये ड्रोन हमले में मार दिया था। इस्रायल और सौदी अरब ने अमरीका को उक़साकर सुलेमानी और मोहानदीस की हत्या करायी होने का दोषारोपण नसरल्ला ने किया।

‘सौदी अरब के क्राऊन प्रिन्स मोहम्मद बिन सलमान ने अमरीका के दौरे में मेरी हत्या के बारे में भी अमरिकी नेताओं से चर्चा की थी। क्राऊन प्रिन्स मोहम्मद की माँग के अनुसार, अमरीका ने भी इस्रायल को साथ लेकर मेरी हत्या की साज़िश रची है’, ऐसा आरोप नसरल्ला ने किया। लेकिन इन तीनों की यह इच्छा पूरी होनेवाली नहीं है, ऐसा हिजबुल्लाह के प्रमुख ने इस इंटरव्यू में कहा। वहीं, इस्रायल के साथ सहयोग स्थापित करनेवाले युएई, बाहरिन, सुदान और मोरोक्को इन अरब हुक़ूमतों से कुछ ख़ास उम्मीदें नहीं थीं। इन देशों ने इससे पहले भी पॅलेस्टिनियों को मुँह के बल गिराया होने का आरोप नसरल्ला ने किया।

इसी बीच, इस्रायल के विनाश की घोषणा देनेवाले हिजबुल्लाह के पास हज़ारों क्षेपणास्त्रे होने का दावा इस्रायल ने इससे पहले ही किया था। इस्रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने हिजबुल्लाह के क्षेपणास्त्र अड्डों की जानकारी संयुक्त राष्ट्रसंघ की आमसभा में प्रस्तुत की थी। लेकिन अब हिजबुल्लाह ही, इस्रायल पर हमला करने की और अपनी क्षेपणास्त्र सिद्धता की जानकारी साझा करके पश्‍चिमी देशों की कार्रवाई को न्यौता देता हुआ दिखायी दे रहा है।

English  मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info