काबुल में हुए विस्फोट के बाद अमरीका में राष्ट्राध्यक्ष बायडेन विरोधी असंतोष तीव्र

against Biden

वॉशिंग्टन – ‘अफ़गानिस्तान के काबुल हवाई अड्डे पर दो आत्मघाती विस्फोट करके १३ अमरिकी सैनिकों को मारनेवाली ‘आयएस-खोरासन’ को लक्ष्य करके इसे अपनी कीमत चुकाने के लिए मज़बूर करेंगे’, यह ऐलान अमरीका के राष्ट्राध्यक्ष ज्यो बायडेन ने किया। लेकिन, साथ ही ‘आयएस’ को रोकना अब तालिबान के हाथों में होने का बयान करके इस आतंकी संगठन को स्वीकृति प्रदान करने के संकेत बायडेन ने दिए। इस वजह से अमरीका में बायडेन के खिलाफ गुस्से की लहर उठी है। अमरिकी सिनेटर्स एवं जनता बायडेन पर महाभियोग चलाने की माँग कर रहे हैं। पूर्व राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प कैसे भी थे, लेकिन उनके कार्यकाल में अमरिकी सैनिक इतनी मात्रा में मारे नहीं गए थे, यह प्रतिक्रिया अमरिकी जनता बयान कर रही है।

गुरूवार रात काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के बाहर आत्मघाती विस्फोट में १०३ लोग मारे गए। इन मृतकों में अमरीका के १३ मरिन्स का भी समावेश है और १५ घायल हैं। इनमें से १० की स्थिति काफी चिंताजनक होने का दावा किया जा रहा है। बीते दस वर्षों में अफ़गानिस्तान के संघर्ष में अमरीका का इतनी बड़ी मात्रा में जान का नुकसान नहीं हुआ था। इस वजह से अफ़गानिस्तान से सेना वापसी के मुद्दे पर गड़बड़ी कर रहे बायडेन के खिलाफ अमरिकी जनता के मन में असंतोष पनप रहा है।

इसी बीच गुरूवार के दिन बायडेन ने अपने भाषण में तालिबान की हरकतों को नजरअंदाज करके आयएस-खोरासन की आलोचना की। काबुल हवाई अड्डे पर हुए हमले के बाद ‘आयएस-खोरासन’ का खतरा अधिक बढ़ने का इशारा राष्ट्राध्यक्ष बायडेन और अमरीका के सेंटकॉम प्रमुख जनरल मैकेनज़ी ने दिया। साथ ही हमारा प्रशासन तालिबान के संपर्क में होने की बात भी बायडेन और मैकेनज़ी ने साझा की।

लेकिन, राष्ट्राध्यक्ष बायडेन आतंकी संगठनों में ‘गुड’ और ‘बैड’ ऐसा फरक कर रहे हैं, यह आरोप अमरीकी माध्यम लगा रहे हैं। साथ ही बायडेन की गलती की वजह से ही अमरिकी सैनिक मारे गए, यह आरोप भी लगाया जा रहा है। बायडेन ने तालिबान के साथ बातचीत करके सेना वापसी की समय सीमा बढ़ाने के बजाय तालिबान के सामने झुक गए, ऐसा गुस्सा अमरिकी माध्यम और विश्‍लेषक व्यक्त कर रहे हैं। अफ़गानिस्तान में हुई भूल का ज़िम्मा स्वीकारकर बायडेन इस्तीफा दें, यह माँग अमरिकी जनता कर रही है।

विपक्षी दल ‘रिपब्लिकन पार्टी’ ने तो बायडेन के खिलाफ महाभियोग चलाने का ऐलान किया है। लेकिन, अमरिकी सिनेट में रिपब्लिकन पार्टी का बहुमत ना होने से बायडेन के खिलाफ महाभियोग को आवश्‍यक समर्थन नहीं मिलेगा, यह दावा किया जा रहा है।

अमरीका के पूर्व राष्ट्राध्यक्ष डोनाल्ड ट्रम्प ने काबुल हवाई अड्डे पर हुए विस्फोट में मारे गए अमरिकी सैनिकों के परिवारों के प्रति शोक व्यक्त किया। ‘हम राष्ट्राध्यक्ष होते तो यह शोकांतिका टल गई होती’, ऐसा ट्रम्प ने कहा। पूर्व राष्ट्राध्यक्ष ट्रम्प के इस दावे को अमरिकी जनता का समर्थन मिल रहा है। अमरीका की पूर्व विदेशमंत्री काँडोलिज़ा राईस ने अमरिकी इतिहास का यह दुःखद दिन होने का बयान किया।

ऐसे उद्देश्यों को ‘अफ़गानिस्तान में हासिल करना संभव नहीं’ यह सामने रखकर अमेरिका ने अपना रणनीतिक दृष्टिकोण ही खो दिया। बीते २० वर्षों के दौरान आतंकवाद विरोधी युद्ध में शामिल हुए अपने मित्रदेश और संबंधितों से बातचीत किए बगैर या इशारा दिए बिना ही अमरीका ने वहां से वापसी कैसे की’, यह सवाल भी अमरीका के पूर्व विदेशमंत्री और कूटनीति के ज्येष्ठ विशेषज्ञ हेनरी किसिंजर ने किया है।

English  मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info