Breaking News

अफ़गानिस्तान में हुए आत्मघाती हमले में १८ की मौत

काबुल – अफ़गानिस्तान के काबुल में हुए आत्मघाती हमले में १८ लोग मारे गए हैं और ५७ लोग घायल हैं। घायलों में स्कूली बच्चों का भी समावेश होने की बात कही जा रही है। अभी इस विस्फोट की ज़िम्मेदारी किसी भी ने स्वीकार नहीं की है। तालिबान ने भी बयान जारी करके अपना इस विस्फोट से संबंध ना होने की बात कही है। लेकिन, इससे एक दिन पहले अफ़गानिस्तान में हुए हमले में २० सैनिक मारे गए थे और यह हमला तालिबान ने ही किया होने की बात सामने आयी थी।

आत्मघाती हमले

काबुल में हुआ आत्मघाती हमला शिक्षा संस्था को लक्ष्य करने के लिए होने की बात दिख रही है। आत्मघाती हमलावर वर्णित संस्था की इमारत में घुसपैठक करके अधिक भयंकर हमला करने का इरादे से पहुँचा था। लेकिन, सुरक्षा सैनिकों ने उसे इस शिक्षा संस्था के गेट पर ही रोका। वहीं पर इस हमलावर ने आत्मघाती विस्फोट किया, यह बताया जा रहा है। इस हमले से एक दिन पहले तालिबान ने किए हमले में २० अफ़गान सैनिक मारे गए थे। साथ ही तालिबान ने दो अफ़गान सैनिकों का अपहरण करने का भी वृत्त है।

अफ़गानिस्तान से अमरीका अपनी सेना हटाने की तैयारी में है। ऐसे दौर में अफ़गानिस्तान में हिंसा भड़क उठी है और आतंकी संगठन इस देश में भीषण खूनखराबा कर रहे हैं। अफ़गान सरकार और तालिबान के बीच शांतिवार्ता आगे नहीं बढ़ सकी है और इसे पूरी तरह से हम ज़िम्मेदार नहीं है, यह दावा दोनों पक्ष कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में अमरीका ने अफ़गानिस्तान से सेना हटाई तो इस देश में फिरसे अराजकता की स्थिति निर्माण होगी, यह इशारा विश्‍लेषक दे रहे हैं। बीते कुछ दिनों में हो रहा भीषण खूनखराबा विश्‍लेषकों की चिंता सच्चाई में उतरती दिख रही है।

नज़दिकी दिनों में अफ़गान सरकार और तालिबान में समझौता नहीं हुआ तो इससे भी अधिक भयंकर हिंसा का मुकाबला अफ़गानिस्तान को करना होगा, यह संकेत भी प्राप्त हो रहे हैं।

English    मराठी

इस समाचार के प्रति अपने विचार एवं अभिप्राय व्यक्त करने के लिए नीचे क्लिक करें:

https://twitter.com/WW3Info
https://www.facebook.com/WW3Info